• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Friends Were Making A Live Video Of The Fun In The Moving Car, Had Refused To Leave Sonu When The Car Was Not In Place, But The Friend Said

हादसे में 6 दोस्तों की मौत में खुलासा:चलती कार में मस्ती का लाइव वीडियो बना रहे थे, शेयर करते उससे पहले ही टैंकर से भिड़ गई गाड़ी

इंदौर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अपने माता-पिता के साथ सुमित यादव। - Dainik Bhaskar
अपने माता-पिता के साथ सुमित यादव।
  • इंदौर के तलावली चांदा पर पेट्रोल पंप के पास हुआ था भीषण सड़क हादसा, रेस्टोरेंट के सीसीटीवी में रिकॉर्ड

इंदौर के तलावली चांदा पर खड़े टैंकर में कार घुसने से 6 दोस्तों की दर्दनाक मौत मामले में नई जानकारी सामने आई है। पता चला है कि देवास की ओर से लौटते वक्त कार में सभी दोस्त मस्ती के मूड में थे। कार में बैठा एक दोस्त मोबाइल में सोशल मीडिया में शेयर करने के लिए वीडियो बना रहा था। ऐसा करते उन्हें कुछ लोगों ने देखा था। वे इसे कहीं शेयर करते, इसके पहले ही हादसा हो गया।

यह भी पता चला है कि कार में जगह नहीं होने पर सोनू ने जाने से मना किया था, पर बाद में दोस्तों के कहने पर वह राजी हो गया। वहीं, रात 12.30 बजे एक युवक ने कैफे हाउस का स्टेटस भी पोस्ट किया था। अभी तक यह पता नहीं है, वे किस ढाबे या रेस्टोरेंट पर भोजन कर लौट रहे थे।

भीषण हादसे में जान गंवाने वाले गोलू, छोटू और देव की शवयात्रा मंगलवार को कॉलोनी से एक साथ निकली। चचेरे भाई देव और गोलू एक ही घर में रहते थे, जबकि छोटू उनके सामने रहता था। रूस से पढ़ाई कर रहे सोनू जाट का शव परिजन सरदारपुर स्थित गांव ले गए। वहीं, ऋषि की अंतिम यात्रा भाग्यश्री नगर से निकाली गई। चारों को सायाजी मुक्तिधाम लाया गया और अंतिम विदाई दी गई। सुमित के माता-पिता अपने बड़े भाई के तेरहवीं में शामिल होने कानपुर गए थे। उनके आने के बाद देर शाम सुमित का अंतिम संस्कार किया गया।

परिवार के साथ ऋषि पंवार (गोल घेरे में)।
परिवार के साथ ऋषि पंवार (गोल घेरे में)।

छोटू के चाचा विक्की ने बताया कि कार चलाते वक्त एक दोस्त मोबाइल पर लाइव वीडियो बना रहा था, जिसे कुछ लोगों ने देखा है, लेकिन वे उसे शेयर नहीं कर पाए। उनके मोबाइल भी चकनाचूर हो गए।

जाट ने पहले जाने से मना किया था
रहवासियों ने बताया, 'गोलू और देव ने अपने घर का गेट बाहर से लगाया और कार लेकर निकले। फिर सभी को बिठाया। आखिर में आदर्श मेघदूत नगर में सोनू जाट के घर पहुंचे। वहां सोनू ने कहा भी कार में जगह नहीं है, लेकिन दोस्तों ने उसे भी बिठा लिया। घर से निकलने के पहले तो दो दोस्त सुंदर कांड पाठ सुन रहे थे।

अपने परिवार के साथ सुमित रघुवंशी (गोल घेरे में)।
अपने परिवार के साथ सुमित रघुवंशी (गोल घेरे में)।

ऐसे हुई थी दोस्ती
छोटू, गोलू और देव आमने-सामने रहते थे। इसी गली में पहले सुमित यादव का घर था। वह कुछ साल पहले भाग्यश्री नगर में रहने गया था, इसलिए सुमित उनका दोस्त था। वहीं, सुमित और सोनू जाट जिगरी दोस्त थे। जब सुमित भाग्य़श्री कॉलोनी में रहने आया, तो वहां ऋषि से दोस्ती हो गई। इस तरह से सभी कॉमन फ्रेंड बन गए।

पहली बार देखा ऐसा मंजर, सिहर गया
हादसे की सूचना मिलते ही नाइट गश्त में तैनात CSP हरिश मोटवानी और कनाड़िया TI राजीव भदौरिया पहुंचे। दोनों ने बताया कि इतना भयावह हादसा उन्होंने पहले कभी नहीं देखा। किसी का सिर कटा था, तो किसी का धड़। यह मंजर देख सिहर उठे। फिर मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों की मदद से शव बाहर निकलवाए।

कार को रॉन्ग साइड से ओवरटेक किया और फिर...
घटनास्थल के पास स्थित रेस्टोरेंट से चीज डिनर के CCTV में हादसा रिकॉर्ड हुआ है। संचालक प्रवेश कुमार ने बताया कि सुबह उन्होंने कैमरों के फुटेज देखे। बाहर लगे दो कैमरों में हादसा रिकॉर्ड हुआ है। पहले में दिख रहा है कि 1: 05 बजकर 28 सेकंड में एक कार निकली और उसी के पीछे गोलू की कार तेजी से आई। फुटेज से अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह 140 से ज्यादा की स्पीड में रही होगी। मात्र पांच सेकंड में गोलू की कार ने दूसरी कार को लेफ्ट से ओवरटेक किया और फिर लेफ्ट में ही घुसी। संभवतः कार का हैंडल नहीं मुड़ा और सड़क पर खड़े टैंकर से भिड़ गई। टक्कर लगते ही अचानक से धमाका हुआ और धूल का गुब्बार उठा। फिर टैंकर में सो रहा ड्राइवर उठकर नीचे आया। उसके बाद पेट्रोल पंप कर्मी। करीब 15 मिनट में लोगों की भीड़ भी इकट्ठा हो गई।

इस प्रकार से तेज गति कार खड़े टैंकर में पीछे से घुसी थी।
इस प्रकार से तेज गति कार खड़े टैंकर में पीछे से घुसी थी।

यह है घटनाक्रम
तलावली चांदा पर सोमवार रात 1.05 बजे 140 किमी प्रतिघंटे से ज्यादा स्पीड में दौड़ती कार अचानक पेट्रोल पंप के सामने खड़े टैंकर में घुस गई थी। टक्कर इतनी तेज थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। कार में सवार युवकों के भी सिर खुल गए। सभी युवक एक ढाबे पर भोजन करने गए थे। हादसा वहां से लौटते वक्त हुआ। कार चलाने वाले युवक का तो आधा सिर ही उड़ गया। लसूड़िया पुलिस के अनुसार हादसे में सोनू (23) पिता धूलचंद जाट निवासी आदर्श मेघदूत नगर, सुमित (20) पिता अमर सिंह यादव निवासी भाग्यश्री कॉलोनी, ऋषि (19) पिता अजय पंवार निवासी भाग्यश्री कॉलोनी, छोटू उर्फ सुमित (22) पिता चंद्रभानसिंह रघुवंशी, देव उर्फ डिंपल (20) पिता रामकुमार बैरागी वैष्णव और गोलू उर्फ सूरज (23) पिता विष्णु दास बैरागी वैष्णव तीनों निवासी मालवीय नगर की मौत हो गई। पुलिस ने टैंकर चालक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं...