पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • From July 23, Pregnant Women Will Get Kovid Vaccine, Only Doses Of Covaccine Can Be Administered

वैक्सीनेशन में एक और बड़ी राहत:23 जुलाई से गर्भवती महिलाओं को लगेगा कोविड टीका, केवल कोवैक्सीन के डोज ही लगवा सकेंगी

इंदौर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अब तक कई प्रकार के रिसर्च के चलते गर्भवती महिलाओं को कोरोना वैक्सीन नहीं लगाए जाते थे लेकिन अब वे भी वैक्सीन लगा सकेगी। जिले में इसकी शुरुआत 23 जुलाई से हो रही है। यहां गर्भवती महिलाओं की जांच के साथ उन्हें कोविड-19 वैक्सीन के संबंध में परामर्श दिया जाएगा। इसके साथ ही कोविड-19 से बचने के लिए यह वैक्सीन लगाई जाएगी।

सीएमएचओ डॉ. बीएस सैत्या ने बताया कि गर्भवती महिलाओं को संक्रमण का खतरा अन्य लोगों की तुलना में ज्यादा होता है। ऐसे में टीकाकरण एक महत्वपूर्ण सुरक्षा कवच है। कोविड-19 के लक्षण जिन महिलाओं में पाए जाते हैं उन्हें वैक्सीन की सलाह दी जाती है। यह गर्भावस्था में किसी भी समय में लगाए जा सकती है। यदि गर्भवती महिला संक्रमित हो चुकी है तो उसे डिलीवरी के बाद वैक्सीन लगाई जाएगी। गर्भवती महिला को यदि एललर्जी या अन्य कोई जोखिम के लक्षण हैं तो वैक्सीन नहीं लगाई जाएगी।

…तो 1075 या 104 पर कॉल करें

गर्भवती महिलाओं का रजिस्ट्रेशन केवल ऑनलाइन ही किया जाएगा। वैक्सीन लगने के बाद ‘सुमन हेल्प डेस्क’ के माध्यम से 20 दिन तक महिला का फॉलोअप लिया जाएगा तथा कोविड-19 की एंट्री एमसीपी कार्ड पर की जाएगी। वैक्सीन लगने के 20 दिनों में अगर कोई भी लक्षण दिखाई दे तो तुरंत 1075 या 104 पर कॉल करना होगा।

यहां लगाई जाएंगी वैक्सीन

गर्भवती महिलाओं के लिए मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, सिविल अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर ही वैक्सीन लगाई जाएगी। खास बात यह कि इन्हें कोवैक्सीन ही लगाई जाएगी। शहरी क्षेत्र में एमवायएच की ओपीडी, पीसी सेठी अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (बाणगंगा), मांगीलाल चूरिया अस्पताल, नंदा नगर प्रसूति गृह तथा ग्रामीण क्षेत्र में महू, मानपुर, सांवेर, देपालपुर व बेटमा में वैक्सीन लगाई जाएगी।

हल्का बुखार, सिरदर्द से घबराए नहीं

सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर जहां वैक्सीनेशन होगा वहां एईएफआई किट रखना आवश्यक होगा। वैसे कई देशों में गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। महिलाएं यदि डीटी का टीका भी लगा रही है तो उसी दिन कोविड वैक्सीन भी लगवा सकती है। अन्य टीकों की तरह इसके सामान्य प्रतिकूल प्रभाव जैसे हल्का बुखार, सिरदर्द, टीके के स्थान पर दर्द हो सकता है लेकिन इससे घबराने की आवश्यकता नहीं है। यह स्वत: दो दिन में ठीक हो जाते हैं। इसके पूर्व दोपहर को इसे लेकर ‘यूनिसेफ’ के सहयोग से वर्चुअल वर्कशॉप हुई जिसमें आवश्यक पहलुओं को डिटेल्स में बताया गया।

खबरें और भी हैं...