इंदौर गैंगरेप पीड़िता टीचर की पीड़ा:पोर्न मूवी दिखाता था बिल्डर पति, अननैचुरल सेक्स करता; दोस्तों के सामने न्यूड डांस कराता था

हेमंत नागले/कपिल राठौर (इंदौर)9 महीने पहले

मैं छत्तीसगढ़ में सरकारी स्कूल में टीचर थी। साल 2019 में जीवनसाथी डॉट कॉम पर राजेश विश्वकर्मा का प्रपोजल आया। अपनी प्रोफाइल में उसने डेट ऑफ बर्थ 1985 लिखी थी, जो कि असल में 1974 है। उसने खुद को डाइवोर्सी, नॉन ड्रिंकर बताया और इनकम एक करोड़ से ज्यादा लिखी थी। 24 अक्टूबर, 2019 को हमने रायपुर के होटल में शादी कर ली। मेरी फैमिली से सारे लोग शादी में मौजूद थे। राजेश की फैमिली से कोई नहीं आया। मेरे फैमिलीवालों ने ऑब्जेक्शन किया, पर बात इज्जत की थी। शादी के बाद इंदौर के एक होटल में 4 दिन ठहराया। इसके बाद अपने फार्म हाउस ले गया।

युवराज फार्म हाउस में शुरुआती 5 दिन मुझे कमरे में बंद कर रखा गया। मुझसे कहा कि, परिवार के लोग शादी से नाराज हैं। शादी के 15 दिन तक राजेश ठीक रहा, इसके बाद शुरू हुआ उसके हैरेसमेंट का दौर। मेरे पास मोबाइल नहीं था। अपने मोबाइल से सामने बैठाकर बात कराता था। कॉल रिकॉर्डिंग पर होती थी। फार्म हाउस में न्यूड पार्टियां हुआ करती थीं। नौकर निगरानी करते थे।

तस्वीर आरोपी बिल्डर और युवती की शादी के समय की है।
तस्वीर आरोपी बिल्डर और युवती की शादी के समय की है।

राजेश मुझे पोर्न मूवी दिखाकर उसी तरह रिलेशन बनाने के लिए कहता। अननैचुरल सेक्स करता था। मना करने पर टॉर्चर करता। फार्म हाउस पर मुझे बिना कपड़ों के रखने लगा। नौकर विपिन को कहकर कपड़े छिपा दिए। अब विपिन भी मेरे साथ गलत हरकत करने लगा था। राजेश, विपिन से मुझ पर ठंडा पानी डलवाता और दोस्तों के सामने बिना कपड़ों के डांस कराता। कुर्सी पर सिगरेट के कश लगाते हुए मुझे घूरता। डांस के बाद सभी मेरे साथ रेप करते। सिगरेट से प्राइवेट और बॉडी के दूसरे पार्ट दागते। दांतों से काटते थे। इसके वीडियो भी उसने बना रखे हैं।

शादी के समय रस्में निभाता आरोपी बिल्डर राजेश और युवती।
शादी के समय रस्में निभाता आरोपी बिल्डर राजेश और युवती।

मैं 16 सितंबर 2021 को छत्तीसगढ़ लौट गई। आत्महत्या का मन बना चुकी थी। लेकिन राजेश ने मुझे और परिवारवालों को मारने के लिए दो गुंडे घर भेज दिए। बात परिवार पर आई तो मैं हिम्मत जुटाकर इंदौर लौटी। थाने जाकर FIR कराई।

जैसा गैंगरेप पीड़िता ने दैनिक भास्कर संवाददाता को बताया। (पीड़िता की मर्यादा को ध्यान में रखते हुए उसकी बातचीत महिला जर्नलिस्ट से ही कराई गई है।)

नागदा के रहने वाले हैं चारों आरोपी

मुख्य आरोपी राजेश विश्वकर्मा
मुख्य आरोपी राजेश विश्वकर्मा

गैंगरेप के इस मामले में गिरफ्त में आए चारों आरोपी नागदा के रहने वाले हैं। मुख्य आरोपी बिल्डर राजेश विश्वकर्मा के पिता जगदीश विश्वकर्मा का नागदा में इंजीनियरिंग वर्क्स का कारोबार है। राजेश शुरू से आपराधिक गतिविधियों में लिप्त रहा है। इसी कारण उसके पिता ने कभी उसे पसंद नहीं किया। उन्होंने राजेश को साल 2018 में घर से निकाल दिया था। जिसके बाद से वह इंदौर में रहने लगा। यहीं पर उसकी दोस्ती अंकेश बघेल, विपिन भदौरिया और विवेक विश्वकर्मा के साथ हुई। अंकेश और विवेक का आपराधिक रिकॉड नहीं मिला है।

हिस्ट्रीशीटर है विपिन भदौरिया

चारों आरोपियों के खिलाफ दुष्कर्म की धाराओं 376 (2जी), 376 (2एन) सहित धारा 377, 323, 594, 206 व 25 आर्म्स एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। पड़ोसियों ने बताया कि आरोपी विपिन भदौरिया प्रकाश नगर निवासी है। उस पर करीब एक दर्जन आपराधिक मामले दर्ज हैं। विपिन हथियारों का भी शौकीन है। उसने अपनी फेसबुक प्रोफाइल पर बंदूक थामे हुए फोटो लगा रखा है। विपिन के पिता दिनेश पर भी एक दर्जन आपराधिक मामले दर्ज हैं। वो यूपी के आगरा में रहते हैं।

ये भी पढ़िए:-

इंदौर के फार्म हाउस में गैंगरेप:बिल्डर और उसके दोस्तों ने छत्तीसगढ़ की युवती को सिगरेट से दागा, दांतों से काटा; बंधक बनाकर रखा

रेप के बाद भतीजी का गला घोंटा:​​शिवपुरी में 6 साल की बच्ची की हत्या के बाद चाचा ने घर में छिपाई लाश, पकड़ा गया