पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Give Beds To Patients Given For 60 60 Thousand Rupees, Services Of Agency Terminated; The Hospital Management Gave The Answer, Now A New Agency Has Been Appointed

HMS कंपनी की सुपर स्पेशलिटी से सेवाएं समाप्त:60-60 हजार रुपए में मरीजों को दिए थे बेड, सीएम हेल्पलाइन में शिकायत के बाद अस्पताल प्रबंधन का जवाब- नई एजेंसी की नियुक्ति कर दी है

इंदौर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इंदौर स्थित एचएमएस कंपनी का सुपर स्पेशलिटी अस्पताल - Dainik Bhaskar
इंदौर स्थित एचएमएस कंपनी का सुपर स्पेशलिटी अस्पताल

अप्रैल माह में सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल (एसएसएच) में 60-60 हजार रुपए में ऑक्सीजन, आईसीयू बेड उपलब्ध कराने सहित कई गड़बड़ियां के आरोपों से घिरी आउट सोर्स एजेंसी ह्यूमन मैट्रिक सिक्युटराइज (HMS) कंपनी की सेवाएं समाप्त कर दी गई हैं। उस दौरान अस्पताल में परेशानी झेल रहे मरीजों को लेकर उनके परिजन ने सीएम हेल्प लाइन पर शिकायतें की थीं। इनमें से करीब 15 शिकायतों के मामले में सीएम हेल्प लाइन से जवाब मांगा गया था। इस पर अस्पताल प्रबंधन ने जिम्मेदारी नहीं लेते हुए अधिकांश शिकायतों में जवाब दिया कि हमने पहले की एजेंसी को हटाकर दूसरी एजेंसी नियुक्त कर दी है।

मार्च-अप्रैल में जब कोरोना संक्रमण चरम पर था। सुपर स्पेशलिटी समेत सभी अस्पताल में में बेड उपलब्ध नहीं थे, तब इस अस्पताल में रुपए लेकर बेड उपलब्ध कराने, मरीजों को ऑक्सीजन, रेमडेसिविर नहीं मिलने समेत कई मामले हुए थे, जिनमें हंगामा हुआ था। इस दौरान कई ऑडियो क्लीपिंग वायरल हुई थी, जिसमें 60-60 हजार रु. में बेड उपलब्ध कराने की बातें थी।

मामले में जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट को कहना पड़ा था कि मामला उनके संज्ञान में है। जल्द ही संबंधितों के खिलाफ एक्शन होगा। इसके बाद पुलिस ने अस्पताल में आउट सोर्स एजेंसी एचएमएस कंपनी के फैसेलिटी मैनेजर गिरिजाशंकर यादव के खिलाफ केस दर्ज किया था।

इधर, फिर कोरोना संक्रमण कम हुआ, तो ऐसे मरीज जिनकी अस्पताल में मौत हो चुकी थी। कुछ ऐसे जिनके इलाज में लापरवाही बरती गई, रुपए मांगे गए इस तरह की कई शिकायतें पीड़ितों ने हेल्प लाइन पर की।

मामले में शिकायतकर्ता सुधीर यादव निवासी मयूर नगर ने बताया कि 30 अप्रैल को अस्पताल की लापरवाही से उनके पिता की मौत हो गई थी। इसे लेकर सीएम हेल्प लाइन पर शिकायत की थी। मामले में अस्पताल प्रबंधन द्वारा मुझे तलब किया गया। मैंने जवाब दे दिया है। एमजीएम मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. संजय दीक्षित ने बताया कि ऑउट सोर्स एजेंसी ह्यूमन मैट्रिक सिक्युटराइज की सेवाएं समाप्त कर दी गई है। सीएम हेल्प लाइन पर जिन लोगों ने शिकायतें की थी उनका जवाब भेज दिया गया है। इनमें से चार ने शिकायतें वापस ले ली हैं।

खबरें और भी हैं...