• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Government Engaged In Influencing Business, If Tax Is Not Reduced, There Will Be Agitation: Traders

जीएसटी और ई-वे बिल से आक्रोश में कपड़ा कारोबारी:कारोबार को प्रभावित करने में लगी सरकार, टैक्स नहीं घटाया तो करेंगे आंदोलन : व्यापारी

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

व्यापारी हमेशा से भाजपा का साथ देते आए हैं। उसके लिए जान लगाते रहे हैं, लेकिन अब यही सरकार हमारे व्यापार को प्रभावित करने में लगी है। मौका मिला तो अब भाजपा को नहीं बल्कि नोटा को वोट देना पसंद करेंगे। यह बात मंगलवार को खंडेलवाल धर्मशाला में मध्यप्रदेश थोक वस्त्र व्यापारी महासंघ द्वारा कपड़ा कारोबारियों की प्रदेश स्तरीय बैठक में शामिल कारोबारियों ने कही। बैठक में पूरे समय पांच फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी जीएसटी करने और मप्र सरकार द्वारा कपड़े को ई-वे बिल के दायरे में लाने के खिलाफ आक्रोश नजर आया।

व्यापारी डरपोक नहीं, सरकार इन फैसलों पर तत्काल दोबारा विचार करे : कारोबारी

  • मध्यप्रदेश थोक वस्त्र व्यापारी संघ के अध्यक्ष हंसराज जैन ने कहा कि नए नियमों से छोटे व्यापारियों का व्यापार चौपट हो जाएगा। पूरे प्रदेश के व्यापारियों को एकजुट होकर विरोध करना चाहिए। सरकार इन फैसलों पर फिर से विचार करे।
  • नीमच के दिनेश दोशी ने कहा कि व्यापारी डरपोक नहीं। सरकार के खिलाफ भी आंदोलन करना पड़ा तो करेंगे।

20 शहरों के प्रतिनिधि जुटे

जीएसटी संघर्ष समिति के संयोजक रजनीश चौरड़िया व प्रचार संयोजक अरुण बाकलीवाल ने बताया बैठक में नीमच, देवास, मंदसौर, बुरहानपुर, ग्वालियर, जबलपुर, मनासा, उज्जैन, गंजबासौदा, सतना, खरगोन, बैरागढ़, नागदा, सिरोंज सहित 20 शहरों प्रतिनिधि बैठक में मौजूद थे।

संघर्ष समिति तय करेगी तारीख

एसोसिएशन के मंत्री कैलाश मंगल ने बताया कि शीघ्र ही संघर्ष समिति द्वारा तारीख और समय निश्चित कर दिया जाएगा। समिति में विजय जाजू, अर्पित मित्तल, दीपक जैन, कन्हैया इसरानी, वासुदेव वाधवानी, रमेश खत्री, नवनीत जैन, अनुराग जैन, अतुल जैन, संदीप जैन सतना आदि हैं।

बैठक के तीन बड़े फैसले

1. मांगें नहीं माने जाने पर चरणबद्ध आंदोलन होगा। 2. हाथ में काली पट्टी बांधेंगे, ब्लैक आउट करेंगे, थाली बजाएंगे। 3. पूरे प्रदेश की संघर्ष समिति का गठन। इससे सभी जिलों के प्रतिनिधियों को जोड़ा जाएगा। यह समिति आंदोलन को आगे बढ़ाएगी।

खबरें और भी हैं...