• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Guests Will Know The Tricks Of Indore, Who Has Waved The Flag Five Times In The Country; Presentation Will Be

महापौर सम्मेलन में इंदौर की स्वच्छता की रहेगी गूंज:देश में पांच बार परचम लहराने वाले इंदौर के गुर जानेंगे मेहमान; प्रेजेंटेशन होगा

इंदौर14 दिन पहले

स्वच्छता के मामले में देश में पांच बार परचम लहराने वाले इंदौर का गुजरात में 20 व 21 सितम्बर को आयोजित महापौरों के सम्मेलन में प्रेजेंटेशन होगा। सम्मेलन में मप्र सहित देशभर के महापौर आएंगे और इंदौर ने किस तरह स्वच्छता में मुकाम हासिल किया, इसके गुर जानेंगे। सम्मेलन में महापौर पुष्यमित्र भार्गव शामिल होंगे। कार्यक्रम में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा, राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष, गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल आदि उपस्थित रहेंगे जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्चुअली रूप से शामिल होंगे।

सम्मेलन में इंदौर महापौर पुष्यमित्र भार्गव के अलावा भोपाल, बुरहानपुर, सागर, उज्जैन, खंडवा, सतना, देवास और रतलाम के महापौर भी शामिल होंगे। इंदौर के लिए यह गौरव की बात है कि सम्मेलन में इंदौर के स्वच्छता का विषय होगा। दो दिनी इस सम्मेलन में शामिल सभी महापौर अपने शहर के विकास, नवाचार आदि साझा करेंगे ताकि एक-दूसरे शहर को नई दिशा मिल सके। सम्मेलन का मकसद ही शहरों के विकास के तरीकों व अन्य मुद्दों को लेकर प्लानिंग साझा करना है।

27 सितम्बर को इंदौर को राष्ट्रीय पुरस्कार

सफलता व उपलब्धियों के साथ अब इंदौर को राष्ट्रीय पर्यटन का अवार्ड मिलने वाला है। इंदौर को देश में पर्यटन स्थल के नागरिक प्रबंधन के लिए यह अवार्ड 27 सितम्बर को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में दिया जाएगा। अवार्ड को लेने के लिए महापौर पुष्यमित्र भार्गव व निगम कमिश्नर प्रतिभा पाल जाएंगे। पर्यटन स्थल की स्वच्छता, अपशिष्ट प्रबंधन, लजीज फूड, व्यवहार आदि को लेकर इंदौर को सर्वश्रेष्ठ राष्ट्रीय पर्यटन का अवॉर्ड दिया जा रहा है।

2 अक्टूबर को स्वच्छता का सिक्सर लगाने की तैयारी

उधर, 2 अक्टूबर गांधी जयंती के अवसर पर शहरी विकास मंत्रालय स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 का परिणाम घोषित करने जा रहा है। मंत्रालय ने पिछले साल का परिणाम घोषित करने से पहले ही 2023 की गाइड लाइन जारी कर चुका है। इंदौर इस बार भी स्वच्छता का सिक्सर लगाने की तैयारी में है। इंदौर समेत देशभर के 4355 शहरों की स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 की फाइनल रिपोर्ट तैयार हो चुकी है। नगर निगम की डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन और साफ-सफाई में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए उसे पिछले साल की तुलना में ज्यादा मिलने की उम्मीद है। स्वच्छता सर्वेक्षण का पिछले वर्ष का रिजल्ट इस बार अब तक जारी नहीं हुआ है।