इंदौर में दोस्त से रिलेशन पर पत्नी-बेटे की हत्या:3 साल से था अफेयर; मराठी कॉल रिकॉर्डिंग से पुलिस को मिला सुराग, पति अरेस्ट

इंदौर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गणेशधाम कॉलोनी में 12 जनवरी को महिला और उसके 11 साल के बेटे की गला रेतकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने फरार पति को अकोला से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस को जांच में उसके की मोबाइल रिकॉर्डिंग मिली। पता चला कि दोस्त के आरोपी के पत्नी के साथ रिलेशन थे। बातचीत मराठी में थी।

बाणगंगा TI राजेंद्र सोनी के मुताबिक सरिता और उसके 11 साल के बेटे आकाश की हत्या के मामले में पुलिस ने सरिता के पति कुलदीप दिगे को अकोला से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने पहले सोते हुए बेटे को गैस की टंकी मारकर घायल कर दिया था। इसके बाद चाकू से गला रेतकर उसकी हत्या कर दी थी।

कॉल रिकॉर्डिंग से खुलासा
मंगेश गांवड़े और कुलदीप दिगे के बीच वारदात की शाम मोबाइल पर मराठी में बातचीत हुई थी। शाम चार बजे मोबाइल फोन पर दोनों की मराठी में बातचीत हुई थी। मंगेश और शारदा के बीच रिलेशन की बात सामने आई। कॉल रिकॉर्डिंग में शारदा का पति कुलदीप, मंगेश से कह रहा है- मेरा जीवन अच्छा चल रहा था। तूने हमको इंदौर क्यों बुलाया। तुमने गद्दारी की। तुम भी मरोगे और मैं भी मरूंगा आज ही।

तीन साल से जानता था
कॉल रिकॉर्डिंग को लेकर मंगेश से जब पूछताछ की गई, तो उसने बताया कि पिछले तीन साल से शारदा को जानता है। कुलदीप के पहले शारदा मंगेश के साथ ही 6 महीने तक रही थी। इसीलिए उसने शारदा को अपने साथ में रहने के लिए इंदौर बुलवाया था। शारदा कुलदीप दिगे से पीछा छुड़ाना चाहती थी, लेकिन कुलदीप उसको नहीं छोड़ रहा था, इसी बात पर दोनों का झगड़ा भी होता था। आरोपी कुलदीप दिगे हत्या करने के बाद में मंगेश के नाम की सिम वाला मोबाइल लेकर गया है। आधार पर कुलदीप के मोबाइल की लोकेशन निकलवाई गई। इसके बाद उसे आकोला पहुंचने के पहले पुलिस टीम ने पकड़ लिया और इंदौर लेकर आई।