• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Hundreds Of People Of Particular Class Arrived, There Was Uproar Over The Proceedings, The Police Took Over The Front

इंदौर में वायरल VIDEO पर हंगामा:छेड़छाड़ के शक में चूड़ीवाले की पिटाई का वीडियो वायरल हुआ, घटना के विरोध में सैकड़ों लोगों ने थाना घेरा

इंदौरएक वर्ष पहले

इंदौर के बाणगंगा इलाके में रविवार को एक वायरल वीडियो को लेकर जमकर हंगामा हुआ। वीडियो में एक युवक को कुछ लोग पीट रहे थे। दिनभर वायरल हुए इस वीडियो का पता पुलिस को रात करीब 10 बजे चला। लोगों का कहना है कि युवक नाम बदलकर चूड़ी बेच रहा था और महिलाओं से छेड़छाड़ कर रहा था। इसके बाद उसकी पिटाई कर दी गई।

इस घटना के विरोध में सेंट्रल कोतवाली थाने पर एक समुदाय के लोग जुटे और जमकर नारेबाजी की। उनका आरोप था कि मारपीट में शामिल लोगों पर पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है। हंगामे के दौरान पुलिस ने थाने का गेट बंद कर दिया था। बाद में फोर्स पहुंची तो थाने की पुलिस बाहर आई। पुलिस ने अज्ञात लोगों पर FIR दर्ज कर ली है। प्रारंभिक जांच में तीन लोगों को आरोपी बनाया गया है। पुलिस ने इस मामले में विवेक व्यास और राजकुमार भटनागर को गिरफ्तार किया है। एक आरोपी राकेश फरार है।

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि गृह विभाग की रिपोर्ट के अनुसार चूड़ी बेचने गए युवक ने अपना हिंदू नाम रखा था। उसके पास इसी तरह के दो आधार कार्ड मिले हैं। महिलाओं को चूड़ी पहनाने को लेकर ही विवाद शुरू हुआ था।

विरोध करने के लिए जब भारी तादाद में समुदाय विशेष के लोग जुटे तो थाने के गेट बंद करने पड़े।
विरोध करने के लिए जब भारी तादाद में समुदाय विशेष के लोग जुटे तो थाने के गेट बंद करने पड़े।

पुलिस ने कहा- मामला बाणगंगा का नहीं
वायरल वीडियो में दिख रहा है कि एक युवक के बैग की तलाशी ली जा रही है। इस दौरान इलाके के लोग युवक की पिटाई भी कर रहे हैं। थाना प्रभारी राजेंद्र सोनी का कहना है कि ये मामला बाणगंगा इलाके का नहीं है। हंगामा करने वालों का कहना है कि वायरल वीडियो इंदौर के बाणगंगा इलाके के खारचा क्षेत्र का है। सदर बाजार इलाके में रहने वाला युवक चूड़ी बेचने गया था। इस दौरान इलाके के कुछ लोगों ने युवक को एक जगह बैठाया और उसकी पिटाई करने लगे।

फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो से ली गई है। इसमें कुछ लोग एक युवक को पीटते हुए नजर आ रहे हैं।
फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो से ली गई है। इसमें कुछ लोग एक युवक को पीटते हुए नजर आ रहे हैं।

राजेंद्र सोनी ने बताया कि घटना के विरोध में समुदाय विशेष के लोगों की काफी भीड़ जुट गई। कार्रवाई की मांग को लेकर भीड़ ने थाना घेर लिया। इसके बाद थाने के स्टाफ ने खुद को अंदर बंद कर लिया। भारी संख्या में पुलिस बल कोतवाली इलाके में तैनात किया गया। सेंट्रल कोतवाली पुलिस ने रात में थाने के बाहर शांति व्यवस्था बिगाड़ने के मामले में दो दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

इंदौर की घटनाओं में SDFI और PFI का नाम!:कलेक्टर मनीष सिंह बोले- दोनों संगठनों के पदाधिकारियों ने युवाओं को भड़काने का प्रयास किया; नाम सामने आए हैं, जिलाबदर किया जाएगा, इंटेलिजेंस और पुलिस नजर रख रही है

खबरें और भी हैं...