महू में कोरोना विस्फोट:मिलिट्री हॉस्पिटल की जांच रिपोर्ट में 30 सैनिक संक्रमित, शहर में भी दो पॉजिटिव; एक दिन पहले सिर्फ 5 मरीज मिले थे

इंदौर4 महीने पहले

पहले डोज के वैक्सीन में देश में नंबर वन पर रहे इंदौर के लिए कोरोना का खतरा कम नहीं हुआ है। इंदौर जिले में 24 घंटे में 32 लोग कोरोना पॉजिटिव आए हैं। इसमें शहर के दो और महू कैंट एरिया में 30 कोरोना संक्रमित मिले हैं, ये सभी सैनिक बताए जा रहे हैं। महू कैंट एरिया में एक दिन पहले बुधवार को पांच मरीज सामने आए थे। बताया जा रहा है कि जो सैनिक पॉजिटिव आए हैं, वे बाहर से ट्रेनिंग लेकर लौटे हैं।

गुरुवार देर रात जारी बुलेटिन में मिलिट्री हॉस्पिटल में एक दिन में 30 पॉजिटिव पाए जाने की सूचना दी गई है। CMHO डॉ. बीएस सैत्या ने बताया कि गुरुवार को 8552 सैंपल टेस्ट किए गए, जिनमें से 8512 निगेटिव और 32 पॉजिटिव पाए गए। CMHO और स्वास्थ्य विभाग की टीम मिलिट्री हॉस्पिटल पहुंची और संक्रमितों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। किसी को गंभीर लक्षण नहीं है।

अचानक एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 53 हुई
खास बात यह कि अब एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर अब 53 हो गई है। दो दिन पहले यहां संख्या 21 थी। अचानक यह संख्या बढ़ने से जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है।

तीन महीने बाद यह बड़ी संख्या
जून के शुरुआती दिनों में मरीजों की संख्या काफी कम हो गई थी। 16 जून को इसके पहले 34 संक्रमित इंदौर में आए थे, उसके बाद एक साथ 32 संक्रमित मिलने का मामला आया है। महू सैन्य क्षेत्र में जो भी पॉजिटिव हैं, माना जा रहा है कि उनकी ट्रेवल हिस्ट्री हो सकती है, इसलिए थोड़ी राहत की बात है।

सब्जी, राशन विक्रेताओं के रेंडमली सैंपल
बताया जाता है महू सैन्य अधिकारियों-जवानों का बाहर से आना-जाना रहता है। इसके चलते ट्रेवल हिस्ट्री की संभावना है। दरअसल जब बुधवार को सैन्य क्षेत्र में 5 पॉजिटिव पाए गए तो वहीं मिलेट्री हॉस्पिटल में अन्य सैन्य अधिकारियों व जवानों के सैंपल लिए, जिसमें 30 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। हालांकि अधिकांश ए सिम्टोमैटिक (सामान्य लक्षण) बताए गए हैं। बहरहाल, दूसरी ओर महू के बाजारों से भी सैन्य स्टाफ का आना-जाना रहता है। इस दौरान वे कई बार लॉण्ड्री जाते हैं। ऐसे ही सब्जियां व राशन भी खरीदते हैं। इसके मद्देनजर सब्जी वालों, राशन दुकानदारों, लॉण्ड्री संचालकों व कर्मचारियों के रेंडमली सैंपल लिए जा रहे हैं। इधर, सीएमएचओ डॉ. बीएस सैत्या ने बताया कि चूंकि मामला सैन्य विभाग से जुड़ा है। ऐसे में सिर्फ संक्रमितों की संख्या बताई गई है जबकि सैंपल कलेक्शन, इलाज वहीं के मिलेट्री हॉस्पिटल में करने का प्रावधान है। इसके चलते ज्यादा जानकारी नहीं है।

खबरें और भी हैं...