भिंड-रतलाम ट्रेन में लूट:हथियारबंद बदमाशों ने आधी रात को महिलाओं को बनाया निशाना, नकदी, मोबाइल समेत सवा लाख रु. लूटे; जयपुर-हैदराबाद एक्सप्रेस में भी वारदात

इंदौर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बदमाशों ने आधी रात को भिंड-इंदौर ट्रेन में सफर कर रही इंदौर की दो महिलाओं से मक्सी के पास नकदी, मोबाइल सहित सवा लाख रुपए का सामान लूट लिया। इस वारदात के 10 मिनट पहले इन्हीं बदमाशों ने जयपुर-हैदराबाद में जयपुर के एक व्यक्ति का भी बैग चोरी कर लिया। महिलाओं के मामले में जीआरपी इंदौर ने लूट का केस दर्ज कर उज्जैन रैफर किया है।

वारदात 26-27 जून की दरमियानी रात 3.30 बजे मक्सी से तीन किमी पहले ऑउटर पर हुई। यहां पूर्व से ही जयपुर-हैदराबाद ट्रेन रेड सिग्नल के कारण खड़ी थी। इस पर भिंड-इंदौर ट्रेन को भी वहीं रुकना पड़ा। एएसपी (रेल) राकेश खाखा ने बताया कि इसी दौरान भिंड-इंदौर ट्रेन को सिग्नल मिला। इसके पूर्व 10 मिनट पहले तीन-चार बदमाश जयपुर-हैदराबाद ट्रेन में चढ़े। उस दौरान यात्री गहरी नींद में थे। बदमाशों कुछ यात्रियों का सामान उलट-पुलट किया और जयपुर के यात्री गेपर रायजी (55) का बैग चोरी कर कूद गए। बैग में मोबाइल, 4 हजार रुपए सहित 12 हजार रुपए का सामान था। इसकी रिपोर्ट जीआरपी इटारसी में की गई है।

फिर एसी कोच में घुसे और महिलाओं को लूटा

फिर बदमाश भिंड-इंदौर ट्रेन के एसी कोच में घुसे। यहां मुस्कान पिता राजेंद्र गुप्ता (30) निवासी कनाडिया रोड व हनी मित्तल (30) निवासी पैराडाइज होस्टल, विजय नगर भी थी। बदमाशों ने इन्हें भी धमकाया और दोनों से मोबाइल व बैग लूटकर कूद गए और अंधेरे में भाग निकले। इस दौरान महिलाओं ने शोर मचाया तो बदमाशों ने पथराव किया। दोनों वारदातों के बाद ट्रेन में सफर कर रहे अन्य यात्रियों की नींद खुली और घबरा गए। मुस्कान के बैग में आयफोन, नकदी आदि तथा हनी के बैग में 15 हजार रु. नकद, घड़ी आदि थे। इस तरह दोनों महिलाओं से करीब सवा लाख रु. की लूट की गई। इनमें मुस्कान परीक्षा देने जा रही थी जबकि हनी पति के साथ सफर कर रही थी। एएसपी ने बताया कि मामला ​​​​​जीआरपी उज्जैनको रैफर किया गया है।

एक माह में 7 वारदातें, फुटेज से मिले सबूत

इस माह बदमाशों ने इसके सहित 7 ट्रेनों में वारदातें की हैं। इनमें 18 जून को बीकानेर-दादर रणपुर एक्सप्रेस में आबू के पास, 19 जून को अवंतिका एक्स. व अजमेर-मैसूर एक्स. में भरुच (गुजरात) के पास, 20 जून को बांद्रा-भुज एक्स. में वापी (गुजरात) के पास, 25 जून को पोरबंदर-हावड़ा एक्स. नंदूरबार (महाराष्ट्र) के पास तथा 27 जून को जयपुर-सिकंदराबाद एक्सप्रेस में कोटा के पास ऐसी ही वारदातें की हैं। एएसपी ने बताया कि पुलिस 19 जून को हुई वारदात के फुटेज से सूत्र तलाश रही है। शंका है कि इन सभी वारदातों में एक ही गिरोह ने वारदात को अंजाम दिया है।

खबरें और भी हैं...