पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Income Tax Department's Portal Has Stalled Since Its Launch, The Last Date Has To Be Increased Again And Again

करदाता परेशान:लॉन्चिंग के बाद से ही ठप पड़ा है आयकर विभाग का पोर्टल, बार-बार बढ़ाना पड़ रही आखिरी तारीख

इंदौर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रिटर्न जमा नहीं हो रहा तो बैंकों से लोन मिलने में भी हो रही परेशानी। - Dainik Bhaskar
रिटर्न जमा नहीं हो रहा तो बैंकों से लोन मिलने में भी हो रही परेशानी।

जून में करीब साढ़े 4 हजार करोड़ की लागत से केंद्र ने इनकम टैक्स का नया पोर्टल लाॅन्च किया था, तभी से यह पोर्टल ठप पड़ा है। इसकी वजह से विभाग को बार-बार आयकर रिटर्न की तारीख बढ़ाना पड़ रही है। वहीं करदाताओं की भी मुश्किलें बढ़ रही हैं। कारण ये है कि बैंकों में होम या अन्य कोई लोन के लिए वर्तमान के साथ बीते सालों के तीन रिटर्न मांगे जाते हैं, लेकिन चालू वर्ष का रिटर्न ही जमा नहीं हो रहा है। ऐसे में बैंकों में लोन की प्रोसेस अटक रही है।

साथ ही अन्य जगह, जहां रिटर्न जरूरी होता है वे सभी प्रक्रियाएं अटक रही हैं। वहीं पोर्टल की समस्या का खामियाजा भी करदाताओं को ही ब्याज के रूप में भुगतना होगा। एक लाख से अधिक का टैक्स जिन पर बनता है, उन सभी करदाताओं को 31 जुलाई के बाद टैक्स के साथ ब्याज भी देना होगा। एडवांस टैक्स वालों को भी एक फीसदी प्रति माह ब्याज देना होगा। तारीख बढ़ाने के बाद भी इस ब्याज से मुक्ति नहीं दी जा रही।

एडवांस टैक्स देने वालों को देना होगा भारी ब्याज

सीए अभय शर्मा ने कहा इसके साथ ही एडवांस टैक्स देने वाले करदाताओं को भारी ब्याज भी देना होगा। ऐसे करदाता, जिनका साल में 10 हजार से अधिक का टैक्स बनता है, उन पर एडवांस टैक्स यानी हर तिमाही में टैक्स देय होता है। इन सभी को इस टैक्स पर ब्याज भी देना होगा।

इसे जमा करने की तारीखें 15 जून (15 फीसदी टैक्स), 15 सितंबर (45 फीसदी टैक्स), 15 दिसंबर (60 फीसदी टैक्स) और पूरा सौ फीसदी टैक्स देने के लिए 15 मार्च अंतिम तारीख होती है। जिन करदाताओं को विभाग से सर्टिफिकेट लेना है, वह भी नहीं मिल रहे हैं। इससे करदाताओं की कानूनी प्रक्रियाएं अटक रही हैं।

खबरें और भी हैं...