पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेमडेसिविर की कालाबाजारी उजागर करने क्राइम ब्रांच बनी ग्राहक:बांग्लादेश का इंजेक्शन इंदौर में बिक रहा था, पुलिस ने ग्राहक बन कर 17 हजार में तय किया सौदा, रेमडेसिविर मिलते ही 3 को दबोचा

इंदौर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पकडाए तीनो आरोपी - Dainik Bhaskar
पकडाए तीनो आरोपी

बांग्लादेश में कोरोना संक्रमित को लग रहे इंजेक्शन इंदौर में महंगे दामों पर बिक रहे हैं। ऐसे ही एक युवक को क्राइम ब्रांच की टीम ने सांवेर पुलिस के साथ मिलकर पकड़ा है। पकड़े गए युवक टीपू सुल्तान से क्राइम ब्रांच ने उक्त इंजेक्शन 17 हजार रुपए में खरीदना तय किया था। वैसे इस रेमडेसिविर की कंपनी कीमत करीब 3 हजार रुपए है। बरामद रेमडेसिविर बांग्लादेश की Incepta Pharmaceuticals lim. कंपनी के द्वारा बनाई गई है। Ninavir Remdesivir नामक इस इंजेक्शन की यहां जमकर कालाबाजारी की जा रही थी। पुलिस जांच कर रही है कि बंग्लादेश का इंजेक्शन इनके पास कैसे पहुंचा।

ब्रांच एएसपी गुरू प्रसाद पाराशर के अनुसार रेमडेशिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी और अवैध बिक्री पर लगाम लगाने के मकसद से लगातार ऐसे लोगों पर कार्रवाई की जा रही है। सांवेर पुलिस को सूचना मिली थी कि क्षेत्र में तीन व्यक्ति रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुए अवैध बिक्री की फिराक में घूम रहे हैं। इस पर क्राइम ब्रांच की टीम ने सांवेर पुलिस के साथ मिलकर प्लानिंग की और उन्हें पकड़ने के लिए उख खरीदार बनकर उसने संपर्क किया। जैसे ही ये लोग पुलिस से मिले, इन्हें दबोच लिया गया।

इन्होंने अपना नाम 29 वर्षीय टीपू पिता अनवर खान निवासी स्कीम नंबर - 78, 23 वर्षीय शाहरुख पिता यूसुफ शाह निवासी ग्राम कजलाना और 23 वर्षीय जफर पिता कुदुस खान निवासी वार्ड क्रमांक -7 बताया। पुलिस ने इनके कब्जे से एक रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद किया, जिसकी कीमत करीब 3 हजार रुपए है। ये इसे 17 हजार रुपए में क्राइम ब्रांच की टीम को बेचने जा रहे थे। खंडेलवाल तिराहा सांवेर पर जैसे ही इन्होंने इंजेक्शन दिखाए। पुलिस ने इन्हें दबोच लिया।

MP में 1200 नकली रेमडेसिविर की डिलीवरी:इंदौर में 1 हजार और 200 जबलपुर में बेच चुके हैं नकली रेमडेसिविर, सूरत में पकड़ा गिरोह; 17 सौ में बेचते थे इंजेक्शन, यहां 40 हजार तक मेें देते थे

एक आरोपी ड्यूूटी डॉक्टर है
आरोपी टीपू ने बताया कि वह मानपुर डायग्नोस्टिक कोविड सेंटर तेजपुर गड़बड़ी पुलिया के पास ड्यूटी डाॅक्टर के पद पर काम करता है। आरोपी जफर ग्लोबल हेल्थ केयर प्रा.लिमि. बडोदरा गुजरात मेडिकल कोडिंग के पद पर करीब 18 माह से काम कर रहा है। आरोपी टीपू ने बताया कि वह पहले भी ऊंची कीमत पर कई रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी कर चुका है।

कांग्रेस नेता करता था ऑक्सी फ्लो मीटर की कालाबाजारी:भैया मम्मी पॉजिटिव हैं, सिलेंडर है पर ऑक्सी फ्लो मीटर नहीं, व्यवस्था हो जाएगी क्या; आरोपी - मेरे पास नहीं... पर करवा दूंगा, 7000 रुपए देने होंगे

खबरें और भी हैं...