• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Indore Ujjain Will Be Built As An Education Hub, Every District Will Have A Well equipped College

उच्च शिक्षा मंत्री बोले- नई शिक्षा नीति बेहतर होगी:इंदौर और उज्जैन एजुकेशन हब के रूप में विकिसत होगा, हर जिले में होगा एक सर्वसुविधा संपन्न कॉलेज

इंदौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मीडिया से चर्चा करते मंत्री मोहन यादव। - Dainik Bhaskar
मीडिया से चर्चा करते मंत्री मोहन यादव।

नई शिक्षा नीति को लेकर प्रदेश में जो माहौल बना है, उसे लेकर मुझे खुशी है कि स्नातक स्तर के कोर्स को लेकर विद्यार्थियों में खासा उत्साह है। मुझे संतोष है कि नए बच्चे ऐच्छिक विषय जैविक खेती, एनसीसी, खेल आदि को पसंद कर रहे हैं। इसे लेकर मप्र में एक मॉडल बन रहा है और देश देख भी रहा है। इसमें किस प्रकार की परेशानी आ रही है, इसे भी देखा जा रहा है। भविष्य में इसके उत्तर भी निकल जाएंगे। अभी भोपाल, सागर, उज्जैन आदि में संभागीय कार्यशाला लगेगी। आने वाले समय में नई शिक्षा नीति को लेकर बच्चों में किसी प्रकार का भ्रम न हो व किसी तरह की परेशानी नहीं आए, इसका ध्यान रखा जा रहा है। जल्द ही इसे पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा। अब इंदौर और उज्जैन में ज्यादा अंतर नहीं रह गया है। ये शैक्षणिक हब के रूप में बने, यह कोशिश की जा रही है।

यह बात प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने मंगलवार को इंदौर में कही। वे एक थैलेसीमिया कार्यक्रम में इंदौर आए थे। इस दौरान मीडिया से चर्चा में उन्होंने बताया कि 2017 के बाद ऐसा हुआ कि प्रदेश में नए कॉलेज खुले। इसके तहत एक साथ 11 कॉलेज खुले और प्राइवेट कॉलेज भी खुले। इस तरह अब 529 नए कॉलेज हो गए हैं। अब हर जिले में एक कॉलेज को ऐसा बनाएंगे जो सर्वसुविधा संपन्न हो। जब नई शिक्षा नीति पहली बार लागू कर रहे हो तो ऐसी बेहतर बने कि वह अन्य राज्यों के लिए एक मिसाल बने और इसके परिणाम भी दिखेंगे। अब अगर कोरोना नहीं फैलता है तो नई शिक्षा नीति में प्रदेश बहुत आगे जाएगा।

प्राइवेट कॉलेजों को सरकार कर रही प्रोत्साहित

प्राइवेट कॉलेजों में पर्याप्त सुविधाएं नहीं होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सरकार अपने बलबूते पर नए कॉलेज खोल रही है। यहां स्टाफ पर्याप्त रहता है, सुविधाएं रहती हैं। सरकार ने समान रूप के प्राइवेट कॉलेजों को प्रोत्साहित किया है। 40 यूनिवर्सिटी ने अपने कैंपस बनाया है। अच्छी गुणवत्ता उपलब्ध कराने के नतीजे अच्छे ही मिलते हैं इसलिए अच्छी साख बनाकर आगे बढ़े।

कुलगुरु में सांस्कृतिक झलक दिखती है

कुलपति को कुल गुरु में परिवर्तित करने की बात पर उन्होंने कहा कि कुलगुरु में एक सांस्कृतिक झलक दिखाई देती है। महाराष्ट्र, दक्षिण भारत में भी कुलगुरु ही प्रचलित है। अगर कांग्रेस को नफरत है तो वहां से हटा दें, हम इसे लागू करने वाले है। कांग्रेस ने उच्च शिक्षा को मानव संसाधन बनाया था। तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी के कार्यकाल में यह सब हुआ था। जो काम नेहरूजी, इंदिरा गांधी ने नहीं किया वह उनके कार्यकाल में हुआ, यह विड़म्बना है। मानव संसाधान सजीव में कहां से मिलेगा, यह तो भौतिक है। मोदी ने इसे उच्च शिक्षा में बदला। निर्णय ऐसे हो जो राज्य और देश दोनों के लिए लाभकारी हो।

दिग्विजय सिंह फिर धार्मिक यात्रा पर निकल जाएं

दिग्विजयसिंह द्वारा भाजपा को बिकाऊ लोगों की पार्टी के ट्वीट पर यादव ने उन्हें फिर धार्मिक यात्रा पर निकलने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि दिग्विजयसिंह ने नर्मदा यात्री की है, वे फिर धार्मिक यात्राओं पर निकल जाएं, उन्हें कोई गंभीरता से नहीं लेता। उनकी पार्टी ही उन पर भरोसा नहीं करती।

देवी अहिल्या विवि भी पहुंचे यादव

उधर, थैलेसीमिया वेलफेयर के रजत जयंती समारोह के बाद मंत्री यादव देवी अहिल्या विवि भी गए। इस दौरान उन्होंने कुछ अधिकारियों व विद्यार्थियों से बात भी की। बताया जाता है कि शाम को भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा ली जा रही बैठक लेकर वे ऑन लाइन अटैंड करने विवि पहुंचे थे। फिर बैठक में देर होने के कारण वहां से रवाना हो गए।

खबरें और भी हैं...