दोपहर को बदला मौसम का मिजाज:इंदौर में कई क्षेत्रों में रुक-रुककर होती रही बारिश , खुले में दुकान लगाने वालों की हुई फजीयत

इंदौर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जंजीरवाला चौराहा क्षेत्र में रुक-रुककर हुई बारिश। - Dainik Bhaskar
जंजीरवाला चौराहा क्षेत्र में रुक-रुककर हुई बारिश।

इंदौर में इस बार कम बारिश को लेकर सितंबर के बचे 20 दिनों में ही उम्मीद है। मौसम वैज्ञानिकों ने 12 से 14 सितंबर तक सामान्य बारिश की संभावना जताई है। इस बीच शुक्रवार दोपहर तक सामान्य बादलों के साथ मौसम ठंडा रहा और फिर दोपहर बाद कुछ क्षेत्रों में बारिश शुरू हो गई। यह बारिश कुछ-कुछ मिनटों के अंतराल में सामान्य हुई तो कहीं रिमझिम। शाम 5 बजे भी अधिकांश स्थानों पर रिमझिम ही चलती रही।

वैसे सुबह से ही ठण्डा मौसम होने के कारण अधिकांश लोगों ने मुहूर्त देखने के साथ सुबह बाजारों में जाकर गणेश चतुर्थी के लिए पूजा-पाठ की खरीदी और गणेशजी की मूर्ति को लाकर स्थापना की। दोपहर को जैसे ही बूंदाबांदी के बाद बारिश होने लगी तो दुकानदारों व ग्राहकों की फजीहत हो गई। दुकानदारों ने प्लास्टिक से मूतियां व सामान ढंका जबकि ग्राहक भी बारिश से बचने के लिए इधर-उधर खड़े। बमुश्किल पांच-सात मिनिट में बारिश रुक गई और 10 मिनिट बाद शुरू हो गई। ऐसा क्रम पांच-छह बार हुआ जिसमें लोग जगह तलाशने तक भीग गए।

बारिश का असर पूर्वी व पश्चिम दोनों क्षेत्रों में रहा जिससे खरीदारी भी प्रभावित हुई। मौसम वैज्ञानिक डॉ. पीके साहा ने बताया कि 12 से 14 सितम्बर तक लो प्रेशर का सिस्टम बनने से इंदौर सहित मालवा-निमाड़ में रुक-रुककर बारिश होगी और धूप भी निकलेगी। इधर, इंदौर के छोटा बिलावली, बड़ा बिलावली, यशवंत तालाब सहित अन्य तालाबों का जल स्तर निर्धारित निशान तक नहीं पहुंचा है जबकि पिछले साल अगस्त के दूसरे पखवाड़े में यशवंत सागर के सायफन चालू हो गए थे।

खबरें और भी हैं...