मंगलवार को बारिश, बुधवार को खुला मौसम:मंगलवार को चंद्रभागा, रावजी बाजार, छत्रीबाग में घुटनों तक पानी भराया, सुबह तक कुल पौने दो इंच बारिश, 16 सितंबर को भारी बारिश की संभावना

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चंद्रभागा क्षेत्र में आधे घंटे की बारिश में घुटनों तक पानी भर गया। - Dainik Bhaskar
चंद्रभागा क्षेत्र में आधे घंटे की बारिश में घुटनों तक पानी भर गया।

मंगलवार दोपहर से शुरू हुई बारिश का दौर रात में भी चलता रहा। कहीं रिमझिम तो कहीं पर तेज बारिश हुई। इंदौर शहर के कुछ इलाकों में घुटने-घुटने पानी भर जाने से नागरिकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। सितंबर माह में 7 इंच बारिश होती है, लेकिन इस बार सितंबर के 14 दिनों में ही 10 इंच बारिश हो चुकी है। मौसम विभाग ने 16 सितंबर को इंदौर और उसके आसपास के क्षेत्रों में भारी बारिश की संभावना जताई है। मंगलवार को जहां झमाझम बारिश हुई तो बुधवार को धूप खिली रही।

मंगलवार को हुई बारिश का सबसे ज्यादा असर चंद्रभागा, रावजी बाजार, छत्रीपुरा सहित पश्चिम क्षेत्र में रहा। पूर्वी क्षेत्र में अपेक्षाकृत कम बारिश हुई। रात को भी अलग-अलग दौर में रिमझिम बारिश होती रही, जिसमें पश्चिम क्षेत्र में कुछ ज्यादा रही। इस तरह सुबह तक कुल 45 मिमी (पौने दो इंच) बारिश हुई। बुधवार को सुबह कभी बादल छाए तो फिर धूप निकल आई। वैसे सितंबर माह में औसत 7 इंच बारिश होती है लेकिन इस बार 14 दिनों में 10 इंच से ज्यादा हो चुकी है जबकि जुलाई-अगस्त में 16 इंच बारिश हुई थी। इस तरह अब तक 26 इंच से ज्यादा बारिश हो चुकी है, जबकि कुल कोटा 35 इंच रहता है।

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार 13 व 14 सितंबर को रुक-रुककर बारिश होने की बात कही गई थी और दोनों दिन ऐसा ही रहा। मंगलवार को दोपहर 3.30 बजे तक तेज धूप रही। फिर कहीं बादल तो कहीं रिमझिम रही। शाम 5 बजे बाद फिर पश्चिम क्षेत्र में तेज बारिश हुई। इसमें चंद्रभागा क्षेत्र में जिस तरह घुटनों तक पानी भरा उसने स्मार्ट सिटी की पोल खोल दी। कुछ रहवासियों ने इसके वीडियो भी बनाए, जिसमें लोगों को सड़क पर घुटनों तक के पानी से गुजरना पड़ा तो बच्चे भी पानी में खेलते रहे। ऐसे ही बियाबानी, महू नाका, एरोड्रम क्षेत्र में भी एक इंच तक बारिश हुई।

इधर, मंगलवार को पूर्वी क्षेत्र में गांधी प्रतिमा, शिवाजी प्रतिमा, तुकोगंज, पलासिया, लसूडिया, देवास नाका, कनाडिया आदि क्षेत्र में शाम को अच्छी बारिश हुई। वैसे इस मौसम में अब तक 652 मिमी (26 इंच से ज्यादा) बारिश हो चुकी है। मौसम वैज्ञानिक डॉ. एचएल खापड़िया ने बताया कि लो प्रेशर के कारण शहर के कई हिस्सों में एक से सवा इंच तक बारिश हुई है। अभी अरब सागर व बंगाल की खाड़ी के बीच द्रोणिका व लो प्रेशर से मौसम ऐसा ही रहेगा। 16 सितंबर को शहडोल, जबलपुर आदि क्षेत्रों में भारी वर्षा की संभावना है। चूंकि द्रोणिका का असर इंदौर के हिस्से में भी रह सकता है इसलिए यहां और आसपास के क्षेत्रों में भारी बारिश हो सकती है।

खबरें और भी हैं...