भास्कर एक्सक्लूसिवमहाकाल और नर्मदा की पूजा करेंगे राहुल गांधी:MP में 13, इंदौर में 3 दिन रहेंगे; भारत जोड़ो यात्रा का ये है रूट

इंदौर3 महीने पहलेलेखक: अमित सालगट

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा MP में दस्तक देने जा रही है। यात्रा MP के कई शहरों से गुजरेगी। इन तमाम शहरों में यात्रा की तैयारी की जा रही है। लोगों के रुकने, खाने, ट्रांसपोर्ट सहित कई व्यवस्थाओं की जिम्मेदारी कांग्रेस नेताओं को सौंप दी गई है।

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा उज्जैन महाकाल की नगरी भी जाएगी। यहां राहुल गांधी बाबा महाकाल के दर्शन करेंगे और जनसभा को संबोधित भी करेंगे।। इसके पहले राहुल गांधी साधु-संतों के साथ मप्र में प्रवेश के साथ मां नर्मदा की पूजा-अर्चना भी करेंगे। 20 नवंबर को भारत जोड़ो यात्रा शाम को बुरहानपुर के बोडरली गांव पहुंचेगी। यहां से 21 नवंबर को भारत जोड़ो यात्रा का आगाज MP की धरती पर होगा।

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा इंदौर जिले में 3 दिन रहेगी, जबकि प्रदेश में 13 दिन तक रहेगी। यह MP में 382 किमी का सफर तय करेगी और 3 दिसंबर की शाम को आगर जिले के सुसनेर विधानसभा से राजस्थान की बॉर्डर में एंट्री करेगी। MP में राहुल गांधी की यात्रा बुरहानपुर से 35 किमी दूर इच्छापुर के पास बोडरली गांव से एंट्री करेगी। एंट्री पॉइंट पर 50 हजार से लेकर 1 लाख लोग (कांग्रेस जन व आम लोग) राहुल गांधी की यात्रा का स्वागत करेंगे।

अब आपको बताते हैं कि राहुल गांधी की यात्रा का प्रदेश में कैसे आगाज होगा...

21 नवंबर को बोडरली गांव से शुरू होगी यात्रा
सुबह 6.30 बजे यात्रा बोडरली गांव से शुरू होगी। 14 किमी का सफर कर सेंट जेवियर इंटरनेशनल स्कूल, जैनाबाद फाटा बुरहानपुर में सुबह 10.30 बजे रुकेगी। शाम 4 बजे यात्रा दोबारा शुरू होगी। करीब 9 किमी का सफर कर शाम सात बजे यात्रा ट्रांसपोर्ट नगर, बुरहानपुर पहुंचेगी। रात में यात्रा का हॉल्ट रनवे होटल बोरगांव सरदर के पहले रहेगा।

22 नवंबर की सुबह 6.30 बजे यात्रा यहां से शुरू होगी और 14 किमी का सफर कर यात्रा रुस्तमपुर, खंडवा में सुबह 10.30 बजे रुकेगी। छहगांव माखन, खंडवा में नुक्कड़ मीटिंग का भी आयोजन किया गया है। भारत जोड़ो यात्रा का नाइट हॉल्ट देशगांव, खंडवा में रहेगा।

23 नवंबर को यात्रा खेरदा, खरगोन से शुरू होगी। 13.4 किमी का सफर कर यात्रा सुबह 10.30 बजे भानबरद, खरगोन में रुकेगी। शाम 4 बजे यात्रा दोबारा शुरू होगी और शाम को बस स्टैंड सनावद, खरगोन के पास रुकेगी। नाइट हॉल्ट मोरटक्का गांव, खंडवा वैष्णव होटल के पास रहेगा।

इंदौर के खालसा कॉलेज में रुकेंगे राहुल गांधी
इसके बाद यात्रा मोरटक्का से बड़वाह की ओर आगे बढ़ेगी। यहां बीच में यात्रा भोजन के लिए रुकेगी। इसके बाद बड़वाह में नुक्कड़ सभा भी होगी। यहां से यात्रा आगे बढ़ेगी और सिमरोल घाट के पहले रुकेगी। यहां नाइट हॉल्ट के बाद यात्रा अगले दिन आगे बढ़कर सिमरोल तलाई नाका होते हुए तेजाजी नगर पहुंचेगी। यहां रुकने के बाद यात्रा आगे बढ़ेगी और इंदौर के कलेक्टर ऑफिस पहुंचेगी। यहां पर नुक्कड़ सभा का आयोजन किया जाएगा। इसके बाद यात्रा खालसा कॉलेज में नाइट हॉल्ट होगा।

26 नवंबर को यात्रा इंदौर में रहेगी। हर दिन के रुकने के पड़ाव के 2 किमी पहले नुक्कड़ सभा का आयोजन किया जाएगा।

नर्मदा नदी पर संतों के साथ करेंगे पूजन
पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 20 नवंबर को मप्र में एंट्री करेगी। इसके बाद उनकी यात्रा बुरहानपुर से लेकर खंडवा, खरगोन, इंदौर, उज्जैन से लेकर आगर मालवा और सुसनेर होते हुए राजस्थान में प्रवेश करेगी। लगभग सारी व्यवस्थाएं तय हो चुकी हैं। राहुल गांधी की टीम ने यहां के सारे पॉइंट देखे हैं।

यह तय हो चुका है कि राहुल गांधी उज्जैन में बाबा महाकाल के दर्शन करेंगे और यहां पर उनकी जनसभा भी होगी। इसके पहले यात्रा के दौरान जब वे सनावद से बड़वाह आएंगे उस वक्त सुबह का वक्त होगा और राहुल गांधी जी पुल पर से (मोरटक्का पुल) से साधु-संतों के साथ नर्मदा मां के दर्शन कर वहीं से पूजन करेंगे।

(ये रूट प्लान मप्र में यात्रा के प्रभारी व पूर्व मंत्री पीसी शर्मा के द्वारा संभावित है। इसमें कुछ प्रतिशत बदलाव हो सकता है। उज्जैन से आगे का डे-वाइज प्लान अभी तय होना बाकी है)

हैदराबाद की टीम से व्यवस्था समझेगी टीम
उन्होंने बताया कि 1 और 2 नवंबर को राहुल गांधी की भारत जोड़ो से जुड़ी मप्र की टीम हैदराबाद में रहेगी। हैदराबाद में जिस तरह की प्लानिंग की गई है। कैसी व्यवस्था रही उसे टीम समझेगी और उसी प्लानिंग को MP में लागू किया जाएगा, जिससे जो 125 पदयात्री जो राहुल गांधी के साथ चल रहे हैं उन्हें कोई दिक्कत ना हो। प्रदेश से 100 पद यात्री साथ चलेंगे। इसके साथ ही अलग-अलग प्रदेशों के 100 यात्री इस भारत यात्रा में शामिल हो सकते हैं।

कंटेनर में सोते हैं राहुल गांधी, तीन एकड़ जमीन देखते हैं
पीसी शर्मा ने बताया कि राहुल गांधी सहित उनके साथ चलने वालों के रुकने के स्थान चिन्हित किए जा चुके हैं। भारत जोड़ो यात्रा के साथ कंटेनर भी चलते हैं। राहुल गांधी खुद कंटेनर में सोते हैं। शर्मा ने कहा जिसके परिवार से 3 प्रधानमंत्री रहे हों वह खुद कंटेनर में सोते हैं, यह एक तपस्या ही है उनकी। ऐसी जगह उनकी रुकने की व्यवस्था तय की गई है, जहां तीन एकड़ जगह हो। क्योंकि वहां उनके कंटेनर भी आ सकें और टेंट भी लग सकें। जिससे वहां लोग खाना भी खा सके और अन्य व्यवस्थाएं भी हो सके।

इंदौर में खालसा कॉलेज (स्टेडियम) में काफी जगह है यहां भी उनके कंटेनर आ जाएंगे। यहीं पर भी खाने की व्यवस्था की जाएगी। राहुल गांधी के साथ अलग-अलग साइज के 57 कंटेनर चल रहे हैं। इसमें स्लीपिंग सीट के साथ ही अन्य व्यवस्थाएं भी रहती हैं। खास बात यह है कि जब पदयात्रा शुरू होगी उसके पहले ये कंटनेर दूसरे पड़ाव पर पहुंच जाते हैं।

हर दिन 15-20 किलोमीटर चलेगी यह यात्रा
150 दिनों तक चलने वाली इस यात्रा में 118 नेता पदयात्रा करेंगे। इन नेताओं के अलावा कांग्रेस पार्टी के हजारों कार्यकर्ता, सिविल सोसाइटी के लोग और आम जनता भी यात्रा का हिस्सा बनेगी। यह यात्रा हर दिन लगभग 20-25 किलोमीटर की यात्रा तय करेगी। यात्रा की अगुवाई राहुल गांधी करेंगे और अलग-अलग राज्यों में उस राज्य के नेता भारत जोड़ो यात्रा से जुड़ते रहेंगे।

भारत यात्री, अतिथि यात्री और प्रदेश यात्रियों से मिलकर बनी यह यात्रा
कन्याकुमारी से शुरू होकर यह यात्रा तिरुवनंतपुरम, कोच्चि, नीलांबुर, मैसूर, बेल्लारी, रायचुर, विकाराबाद, नांदेड़, जलगांव, इंदौर, कोटा, दौसा, अलवर, बुलंदशहर, दिल्ली, अंबाला, पठानकोट और जम्मू से गुजरने के बाद श्रीनगर में पूरी होगी। इस यात्रा में शामिल होने वाले यात्रियों को 'भारत यात्री', 'अतिथि यात्री' और 'प्रदेश यात्री' नाम की 3 कैटेगरी में रखा गया है।

'भारत जोड़ो' यात्रा से जुड़ी और खबरें भी पढ़िए...

उज्जैन में ‘महाकाल लोक’ को अब कांग्रेस भुनाएगी!

उज्जैन में ‘महाकाल लोक’ को अब कांग्रेस भी भुनाना चाहती है। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के मध्यप्रदेश रूट में बदलाव किया है। कांग्रेस का उज्जैन से हिंदू और महू से दलित-आदिवासी वोटर्स को आकर्षित करने का प्लान है। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

भारत जोड़ो यात्रा में सोनिया गांधी

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी आज कर्नाटक के मंड्या में पार्टी की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुईं थी। राहुल ने कंधे पर हाथ रखकर मां का स्वागत किया था। इसके बाद यात्रा में मौजूद महिला नेताओं ने सोनिया गांधी का हाथ थाम लिया। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

राहुल की भारत जोड़ो यात्रा, 2024 पर नजर

7 सितंबर 2022 यानी आज कन्याकुमारी से कांग्रेस की 'भारत जोड़ो' यात्रा शुरू हुई। 12 राज्यों से होकर गुजरते हुए करीब 3,500 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली इस यात्रा का नेतृत्व राहुल गांधी कर रहे हैं। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

राहुल के साथ चल रही महिला के पैरों में छाले पड़े...

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में मप्र की 2 महिला समेत 7 नेता उनके साथ हैं। इन नेताओं ने अपने अनुभव बताते हुए कहा, पैरों में छाले पड़ गए, नाखून उखड़ गए, लेकिन हम रुके नहीं। जैसे गांधी जी ने दांडी यात्रा कर देश को आजादी दिलाई थी, उसी प्रकार यह यात्रा भारत में फैली नफरत को खत्म कर प्यार का वातावरण बनाएगी। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।