इंदौर में युवक का सुसाइड मामला:सुसाइड नोट में खाचरौद के शराब व्यापारी और स्कूल संचालक पर लगाया प्रताड़ना का आरोप, इंदौर पुलिस लेगी बयान

इंदौरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

तुकोगंज इलाके में रहने वाले एक निजी कंपनी में कार्यरत कर्मचारी ने 15 अक्टूबर को फांसी लगाकर अपनी जान दे दी थी। उसने आत्महत्या के पहले एक सुसाइड नोट लिखा था, जिसमें शराब कारोबारी के साथ कई लोगों के नाम थे। पुलिस ने परिवार के बयान लिए थे। इसमें सूदखोरी की बात सामने आई थी। इस मामले में पुलिस खाचरौद जाएगी, जिसमें सभी के बयान लेने के बाद जांच कर प्रताड़ित करने वालों को आरोपी बनाया जाएगा।
टीआई कमलेश शर्मा के मुताबिक न्यू पलासिया में किराए से रहने वाले खाचरौद मूल निवासी मुकुल पुत्र सुरेश चंद्र यादव ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी थी। इस मामले में पुलिस ने जांच शुरू की है। जिसमें खाचरौद के शराब कारोबार से जुडे मुकेश जयसवाल, पराग स्कूल वाले सुरेश तिवारी, सिराज मिश्रा, बंसत सिंह, नंदकिशोर राठौर और दिनेश अरोरा का नाम सामने आया था। सभी के नाम मुकुल एक सुसाइड नोट में लिखकर गया था। टीआई के मुताबिक सभी आरोप लगने वाले लोगों के बयान लिए जाएंगे, जिसके बाद मामले में प्रताड़ित करने को लेकर केस किया जाएगा।
शेयर मार्केट में लगवाए थे रुपये
पुलिस के मुताबिक जांच में बात सामने आई है कि मुकुल को सभी ने रुपए देने के बाद उसे शेयर मार्केट में इनवेस्ट करवाया था। जिसमें रुपए डूब गए थे। इस मामले में मुकुल को सभी परेशान करने लगे थे। वह इंदौर आकर रहने लगा था। मुकुल के बैंकों के चेक लेने के बाद रुपए देने वाले कुछ लोगों ने कोर्ट में केस लगा दिया था। जबकि कुछ उसे दिन रात मोबाइल से कॉल कर उठा ले जाने तक की धमकी दे रहे थे। मुकुल इस बात से काफी परेशान हो गया था।

खबरें और भी हैं...