पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Madhya Pradesh Ujjain Choti Kali Sindh River Bridge Accident Update; Here's Latest News

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उज्जैन में हादसा:छोटी कालीसिंध नदी पर बन रहे ब्रिज का स्लैब डालते समय एक हिस्सा ढहा, 6 मजदूर घायल, साइट इंजीनियर निलंबित, ठेकेदार पर केस दर्ज करने के आदेश

उज्जैनएक महीने पहले
स्लैब डालते समय ब्रिज का एक हिस्सा जमींदोज हो गया।

उज्जैन जिले की तराना तहसील में आगर रोड स्थित पाट के पास गुरुवार दोपहर एक निर्माणाधीन ब्रिज का हिस्सा ढह जाने से छह मजदूर घायल हो गए। हादसा छोटी कालीसिंध नदी पर एक हिस्से में स्लैब डालने के दाैरान हुआ। मामले में कलेक्टर आशीष सिंह ने साइट इंजीनियर रघुनाथ सूर्यवंशी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। वहीं, ठेकेदार के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कराने के आदेश दे दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि हादसे में एक ग्रामीण के भी लापता होने की बात सामने आ रही है। मलबा हटवाया जा रहा है। उसके बाद ही लापता व्यक्ति का पता चल सकेगा।

हादसे में घायल मजदूरों को तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया।
हादसे में घायल मजदूरों को तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया।

मिली जानकारी अनुसार आगर रोड पर पाट गांव में छोटी काली सिंध नदी पर बन रहे निर्माणाधीन पुल पर स्लैब डालने का काम चल रहा था। दोपहर के समय अचानक करीब 15 मीटर का हिस्सा धराशायी हो गया। पुल के साथ ही 6 मजदूर नीचे गिरकर घायल हो गए। इनमें से 5 को तत्काल उज्जैन के सीएचएल अस्पताल पहुंचाया गया। ब्रिज के धराशायी होते ही कांग्रेस विधायक महेश परमार कार्यकर्ताओं के साथ मौके पर पहुंच गए और ब्रिज की गुणवत्ता पर सवाल उठाते हुए धरने पर बैठ गए। उन्होंने शिवराज सरकार को कोसते हुए कहा कि यह बस भाजपा नेताओं और अधिकारियों की मिलीभगत का नतीजा है। धरने बैठे लोगों की मांग थी कि भ्रष्‍टाचारियों पर कार्रवाई की जाए। घटिया निर्माण कार्य बिल्कुल भी नहीं चलेगा।

कलेक्टर आशीष सिंह, एसपी सत्येन्द्र कुमार शुक्ला और सेतु निगम के कार्यपालन यंत्री एस के अग्रवाल ने मौके पर पहुंचकर जानकारी ली। कलेक्टर ने बताया की हादसे की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। प्रारंभिक तौर पर दोषी पाए गए साइट इंजीनियर रघुनाथ सूर्यवंशी को निलंबित कर दिया गया है। वहीं, ब्रिज का निर्माण कर रही कंपनी श्री मंगलम बिल्डकॉन के विरुद्ध उपेक्षा पूर्ण तरीके से कार्य कराने के आरोप में आईपीसी की धारा 287 के तहत प्रकरण दर्ज करने के आदेश दे दिए गए हैं। मामले में कार्यपालन यंत्री ने बताया की जिस समय हादसा हुआ तब पुल के 15 मीटर हिस्से में कांक्रीट का कार्य किया जा रहा था। पुल का निर्माण कार्य मार्च 2019 से शुरू किया गया था। 405 मीटर लंबे इस पुल के बन जाने से उज्जैन का आगर सहित राजस्थान के कई जिलों से सीधा संपर्क हो जाएगा।

विधायक महेश परमार विरोध स्वरूप धरने पर बैठे।
विधायक महेश परमार विरोध स्वरूप धरने पर बैठे।

ऐसा है पूरा घटनाक्रम...
ग्रामीणों के अनुसार गुरुवार सुबह से ही नदी के बीच में ब्रिज के लिए तैयार दो पिलर पर स्लैब का काम चल रहा था। दोपहर सवा 3 बजे के करीब अचानक जोर की आवाज आई और देखते ही देखते पूरा स्लैब जमींदोज हो गया। स्लैब डालने का काम करीब 25 से 30 मजदूर कर रहे थे। बाकी लोग इधर-उधर थे, जबकि छह मजदूर स्लैब ढलाई का काम कर रहे थे। ब्रिज के गिरते ही ये उसके साथ नीचे जा गिरे। ऊपर होने से ये मलबे में दबने की जगह लोहे की जाली में फंस गए। वहां मौजूद मजदूर दौड़े और तत्काल उन्हें ऊपर निकाल लिया। इन्हें तत्काल निजी वाहन से ग्रामीण अस्पताल लेकर पहुंचे। इनमें से एक का पाट इलाज चल रहा है, जबकि पांच को उज्जैन भेज दिया गया।

महिला बोली- पति नहाने गए अब तक नहीं लौटे
ब्रिज के पास ही रहने वाली एक महिला शाम को मौके पर पहुंची। उसने बताया कि उसके पति दाेपहर में नहाने का कहकर नदी में गए थे। शाम होने को आई वे अब तक घर नहीं लौटे हैं। उनका मोबाइल भी बंद आ रहा है। वहीं, मलबे को हटाने के लिए दो जेसीबी, एक क्रेन और एक पोकलेन मशीन लगी हुई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें