पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Medical Equipment And Medicines Worth Millions Being Purchased In Bombay Market, Machhi Bazaar, Treatment Underway At Home

इंदौर में 6 दिन में 127 जनाजे का सच:बंबई बाजार, मच्छी बाजार में चाेरी-छिपे खरीदे जा रहे लाखों के मेडिकल उपकरण और दवाइयां, घरों में ही चल रहा इलाज

इंदौर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मच्छी बाजार की इसी गली में आठ ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनों की डिलेवरी की गई।
  • मेडिकल उपकरणों की खरीदी और डिलीवरी चोरी-छिपे की जा रही है
  • इन इलाकों में चोरी-छिपे इलाज किया जा रहा है और मौतें भी हो रही हैं

(सुनील सिंह बघेल) मच्छी बाजार, बंबई बाजार जैसे कोरोना प्रभावित इलाकों में अचानक बड़ी संख्या में लाखों के ऑक्सीजन जनरेटर, मास्क, पीपीई किट, कोरोना के लक्षणों का इलाज करने वाली हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन जैसी दवाइयां खरीदी जा रही हैं। यही नहीं, इन इलाकों में चोरी-छिपे इलाज किया जा रहा है और मौतें भी हो रही हैं।

मेडिकल उपकरणों की खरीदी और डिलीवरी भी चोरी-छिपे की जा रही है। डिलीवरी लेने के लिए जो गाड़ी आ रही है, उसके पास खाद्य सामग्री वितरण के लिए जारी किया गया कर्फ्यू पास मिला है। इन मशीनों और दवाओं के सप्लायर को भुगतान मुंबई की एक कुरियर कंपनी के खाते से किया जा रहा है। भास्कर स्टिंग में यह खुलासा हुआ है। 

इन्हीं इलाकों से अप्रैल के शुरुआती छह दिनों में 127 और 12 अप्रैल तक कुल 227 जनाजे उठ चुके हैं। हॉटस्पॉट में शामिल इंदौर के लिए यह गंभीर और चिंता का विषय है। जिला प्रशासन को चाहिए कि वह मेडिकल इक्विपमेंट सप्लायर से पिछले एक महीने में सप्लाय किए गए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और बायपेप मशीनों की सूची ले। ऑक्सीजन सिलेंडर की सप्लाय कहां हो रही है, इस पर भी निगाह रखी जाए।  

सप्लायर-खरीदार की बातचीत

1. आज मामला बहुत स्ट्रिक्ट है, सामान कल कलेक्ट करता हूं...
सप्लायर : आ जाऊं?
वाजिद : नहीं, आज मत आओ, मामला बहुत स्ट्रिक्ट है।
सप्लायर : पास है न गाड़ी पर?
वाजिद : हां, पर गाड़ी पेशेंट को लेकर मयूर हॉस्पिटल गई है। 
2. ऑक्सीजन कम क्यों आ रही.. रात को पेशेंट एक्सपायर हो गया...
सप्लायर : फोन किया था आपने?
वाजिद : पहले दो मशीन दी थी न आपने फिलिप्स की, उसमें ऑक्सीजन कम क्यों आ रही?
सप्लायर : आप बॉटल का ढक्कन टाइट करो, कनेक्टर लगा दो। सही हो जाएगा।
वाजिद : फिलिप्स की जो (ऑक्सीजन कंसंट्रेटर) है न, उसमें प्रेशर आ नहीं रहा। इससे रात को पेशेंट एक्सपायर हो गया। आप जो लाए थे चार मशीन पहले, दिन में उसको लगाई थी।

ऐसा क्या हुआ कि शाम को एक पेशेंट एक्सपायर हो गया? पेशेंट लेट नहीं रहा था। बार-बार उठकर बैठ रहा था।
सप्लायर : नहीं-नहीं, लेटने-वेटने से कुछ नहीं होता।
वाजिद : रात को दो-तीन जनों को और लगाई थी मैंने। फिलिप्स के साथ मास्क भी नहीं आया। दूसरी कंपनी वाली (मशीन) के साथ तो है।
सप्लायर : मशीन डोमेस्टिक के लिए बनी है। इसमें नहीं आता मास्क।
वाजिद : आपके पास है ऑक्सीजन मास्क? ट्यूब लगा रहे हैं तो नाक में जाती है। घबराहट भी हो रही। 5 मास्क का बोला है मैंने। आपके पास हो तो भेजो।
(दोनों के बीच हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग भास्कर के पास मौजूद है)

भुगतान मुंबई से, एक बार 93 हजार, दूसरी बार 1.28 लाख

एक सप्लायर को मुंबई की कंपनी के जरिये 93 हजार और 1 लाख 28 हजार के भुगतान का ब्योरा भास्कर को मिला है। उसके मुताबिक मशीनों आदि के लिए भुगतान इंडेक्स लॉजिस्टिक प्राइवेट लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है। भास्कर को रजिस्ट्रार ऑफ कंपनी के दस्तावेजों में भी इसी नाम से दर्ज एक प्रतिष्ठित कंपनी मिली।  एयर कार्गो-कुरियर क्षेत्र की इस कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर इस्माइल मोहम्मद खान हैं।

क्राइम ब्रांच से करवा रहे हैं पूरे मामले की जांच : डीआईजी
हमें कोरोना प्रभावित इलाकों में चोरी-छिपे समानांतर चिकित्सा व्यवस्था संचालित किए जाने की जानकारी मिली है। क्राइम ब्रांच को पड़ताल का जिम्मा सौंपा है। -हरिनारायणाचारी मिश्र,डीआईजी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें