• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Meet Shivraj Singh, Narottam, Bhupendra Singh On Different Issues In 10 Days, Soon To Be Launched

इंदौर के डेवलपमेंट को लेकर बढ़ी सिलावट की सक्रियता:10 दिनों में शिवराजसिंह, नरोत्तम, भूपेंद्रसिंह से मुलाकातें, जल्द लोकार्पण

इंदौर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रभारी मंत्री डॉ. मिश्रा के साथ बेहतर ट्रैफिक के लिए प्लान। - Dainik Bhaskar
प्रभारी मंत्री डॉ. मिश्रा के साथ बेहतर ट्रैफिक के लिए प्लान।

मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के सबसे करीबी माने जाने वाले मंत्री तुुलसी सिलावट की इन दिनों सक्रियता काफी बढ़ गई है खासकर इंदौर के विकास और विभिन्न प्रोजेक्ट को लेकर। हाल ही में उन्होंने मेडिकल, ट्रैफिक, मेट्रो सहित अन्य मुद्दों को लेकर भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा और नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्रसिंह से मुलाकातें की। इस दौरान 26 नवम्बर को मुख्यमंत्री के इंदौर में दो कार्यक्रमों में इंदौर आने पर सहमति भी बन गई थी लेकिन प्रदेश कार्यसमिति की बैठक व अन्य व्यस्तताओं को लेकर मुख्यमंत्री का आना निरस्त हो गया। वैसे इस माह यह दूसरा मौका है जब मुख्यमंत्री का दूसरी बार इंदौर आना निरस्त हुआ है। इसके पूर्व में 19 नवम्बर को इंदौर आने वाले थे और करोड़ों की लागत वाले MTH का लोकार्पण किया जाना था। बहरहाल, अब प्रयास किए जा रहे हैं कि मुख्यमंत्री के हाथों एक ही दिन में शहर के चार-पांच प्रोजेक्ट्स का लोकार्पण किया जाए। वैसे इन मुलाकातों को राजनीतिक गलियारे में अलग-अलग रूप में लिया जा रहा है। दरअसल सिलावट ने सबसे पहले 17 नवम्बर को मुख्यमंत्री से मुुलाकात की थी। इस दौरान उन्होंने इंदौर में MYH के विभिन्न प्रस्तावित कामों की जानकारी दी और आग्रह किया कि इन कामों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करें। उन्होंने कहा कि मालवा अंचल का यह अस्पताल आम आदमी के इलाज के लिए लोकप्रिय एवं उपयोगी अस्पताल है। यहां विभिन्न तरह के डेवलपमेंट काम प्रस्तावित हैं। इस दौरान उन्होंने MTH के बारे में बताया था कि पूर्व में पूर्व में यह 120 बेड का हॉस्पिटल था, जिसमें नए हॉस्पिटल का निर्माण किया गया हैं। इसकी कुल बेड क्षमता 450 है। इसमें से 16 बेड का ICU, 60 बेड का बच्चों के लिए NICU, 350 बेड का जनरल वॉर्ड एवं 24 बिस्तर प्राइवेट रूम के रहेंगे। इसके साथ ही इओबएसटी एंड गाइनेकोलॉजिस्ट, न्यू बोर्न, (महिला, व नवजात शिशुओं) के इलाज के लिए 450 बेड व्यवस्था रहेगी। साथ ही नवजात शिशुओं के लिए मदर मिल्क बैंक भी बनाया गया है। इस हॉस्पिटल के डेवलपमेंट पर 50 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। सिलावट ने मुख्यमंत्री को खासतौर पर MTH के लोकार्पण के साथ सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल में स्थापित नवीन कार्डियक कैथ लैब के बारे में बताया था कि यह 6.41 करोड़ रु. से बनकर तैयार है। यहां नेफ्रोलॉजी विभाग के साथ नवीन डायलिसिस यूनिट का लोकार्पण किया जाना है। हालांकि इस बीच 26 नवम्बर को मुख्यमंत्री के इंदौर के निरस्त कार्यक्रम के बाद हॉस्पिटल में कैथ लैब में एंजियोग्राफी भी शुरू कर दी गई। इसके अलावा MYH की नई मर्चुरी सहित अन्य प्रोजेक्ट अन्य के डेवलपमेंट से भी अवगत कराया था। दूसरी ओर मुख्यमंत्री द्वारा मेट्रो प्रोजेक्ट के रेलवे द्वारा उपलब्ध कराई गई जमीन का भी भूमिपूजन किया जाना है। ऐसे ही 22 नवम्बर को उन्होंने भोपाल में प्रभारी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा से इंदौर में बढ़ते ट्रैफिक को देखते हुए आवश्यक संसाधन व पुलिस बल की आवश्यकता, नए उपकरणों एवं संसाधनों की मंजूरी देने के मामले में मुलाकात की थी। मामले में डॉ. मिश्रा उन्हें भरोसा दिलाया था था कि शासन हर संभव सहयोग दिया जाएगा। 22 नवम्बर को ही सिलावट ने नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्रसिंह से भी मुलाकात कर उन्हें इंदौर के स्वच्छता सर्वेक्षण में पांचवी बार अवार्ड मिलने पर इंदौर की जनता की ओर से बधाई देने के साथ ही इंदौर की मूल भूत आवश्यकता और भविष्य के नए प्रोजेक्ट शुरू करने के बारे में भी चर्चा की। इसके साथ ही मेट्रो प्रोजेक्टस को लेकर स्टेशन निर्माण के भूमिपूजन करने और स्मार्ट सिटी के विकास कामों की मंजूरी को लेकर भी चर्चा की और मंजूरी के लिए पत्र सौंपा था। संकेत हैं कि अगले माह मुख्यमंत्री द्वारा मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए रेलवे द्वारा दी गई जमीन का भू््मि पूजन, MTH का लोकार्पण सहित अन्य कामों की शुरुआत की जा सकती है।