बच्ची को जहर देकर मां ने भी पीया:बेटी होने से पति नाराज था, पत्नी ने 4 महीने की बच्ची की जान लेकर की खुदकुशी

इंदौरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

महू में बेटी को जन्म देने के बाद पति के तानों से परेशान महिला ने आत्महत्या कर ली। महिला ने पहले अपनी 4 महीने की बेटी को जहर दिया। इसके बाद खुद भी जहर पी लिया। दोनों की मौत हो गई। महिला और युवक ने महज छह महीने पहले ही लव मैरिज की थी। जब दोनों घर से भागे थे, तब लड़की नाबालिग थी। 6 महीने तक दोनों यहां-वहां छिपते रहे। उन्होंने लड़की के बालिग होने पर परिवार से शादी करने की बात कही। दोनों के परिवार ने इस रिश्ते को मंजूरी दे दी थी।

SDOP महू विनोद शर्मा ने बताया खुर्दी गांव के सुभाष और रजनी महू के किशनगंज में किराए के मकान में रहते थे। रजनी के परिवार का आरोप है कि उसने 4 महीने पहले बेटी प्रिया को जन्म दिया था। बेटी होने पर सुभाष उससे विवाद करता था। रजनी इस बात से परेशान हो गई थी। 7-8 नवंबर की रात रजनी ने पहले बच्ची को जहर दिया, फिर आत्महत्या कर ली। बच्ची को इंदौर के एमवाय अस्पताल लेकर गए थे, लेकिन उसकी भी मौत हो गई। पुलिस ने पति सुभाष को हिरासत में ले लिया है।

बेटी पैदा होने से नाराज था
रजनी के परिवार का कहना है कि सुभाष पेशे से मजदूर है। वह घर के सामने से निकला करता था। इसी बीच रजनी और सुभाष के बीच प्रेम हो गया। जब रजनी अपनी नानी के घर खंडवा गई हुई थी, वहां से लौटते वक्त वह कहीं गायब हो गई। गुमशुदगी की रिपोर्ट महू थाने में की थी। इसके 6 महीने बाद महू के किशनगंज में रजनी और सुभाष एक किराए के मकान में मिले। उन्होंने पुलिस को बताया कि दोनों ने प्रेम विवाह कर लिया है। इसके बाद परिवार वाले भी इस शादी से राजी हो गए थे।