पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही:एमवाय के मर्च्युरी में शव की अदला-बदली का आरोप, गलत शव लेकर गए परिजनों ने कर दिया अंतिम संस्कार

इंदौर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आकाश ने एक सप्ताह पहले किसी कारणवश एसिड पी लिया था। इसके बाद से ही वह भर्ती था। - Dainik Bhaskar
आकाश ने एक सप्ताह पहले किसी कारणवश एसिड पी लिया था। इसके बाद से ही वह भर्ती था।
  • मर्च्युरी में दो शव रखे थे, इसमें एक कनाड़िया थाना इलाके और दूसरा सोनकच्छ के युवक का था
  • परिजनों का आरोप है कि उनके बेटा का शव कनाड़िया वाले मृतक के परिजनों को सौंप दिया गया

एमवाय अस्पताल की मर्च्युरी में शव की अदला-बदली का एक मामला सामने आया है। परिजनों का आरोप है कि वे अपने बेटे के शव के लिए परेशान होते रहे। जबकि कर्मचारियों की लापवाही से उनके बेटे का शव अन्य मृतक के परिजन ले गए और उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया।

पिता संतोष पटैया का आरोप है कि सोनकच्छ निवासी आकाश पटैया ने एक हफ्ते पहले एसिड पी लिया था। इसके बाद उसे एमवाय अस्पताल लेकर आए थे। रविवार रात इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। परिजनों ने पोस्टमार्टम के चलते उसका शव एमवाय के मर्च्युरी में रखवाया था। सोमवार सुबह पीएम के बाद उसका शव परिजन अपने साथ लेकर जाते। इससे पहले ही कनाड़िया के रहने वाले एक अन्य मृतक के परिजन वहां पहुंचे। कर्मचारियों ने लापरवाही बररते हुए आकाश का शव उन्हें सौंप दिया। जब तक मामले का पता चलता, उन्होंने उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया।

आकाश के परिजन मर्च्युरी पहुंचे और जो शव उन्हें दिया गया, वह पूरी तरह से कवर था। शव को खोलकर देखा तो वह आकाश नहीं था। इस पर परिजनों ने आपत्ति ली।। परिजनों का कहना है कि जब इस मामले में शिकायत की तो उनका कहना है कि अब आप किसी और का शव ले जाओ और उसे अपना बेटा मान कर उसका अंतिम संस्कार कर दो या तो जहां आपके बेटे को जलाया गया है, वहां जाकर उसकी राख इकट्ठे कर क्रियाकर्म कर दो। परिजनों आरोप है कि इनकी लापरवाही से वे एमवाय की मर्च्युरी के बाहर 4 घंटे तक परेशान होते रहे।

दूसरे मृतक के परिजन बॉडी को पहचान कर ले गए थे

एमवाय अस्पताल अधीक्षक डॉ. पीएस ठाकुर का कहना है कि हमें जानकारी मिली थी। इस पर पता किया तो कर्मचारियों ने बताया कि कनाड़िया के रहने वाले मृतक के भाई बॉडी को पहचानकर ले गए और अंतिम संस्कार कर दिया। पता चलने पर उन्हें बुलाया तो वे अभी भी यही कह रहे हैं कि हम पहचान कर ले गए थे। ये कैसे पहचानने में गलती हुई यह पुलिस जांच का विषय है। दूसरे मृतक के परिजन शिकायत करने पर कार्रवाई करेंगे। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

और पढ़ें