पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अनलॉक पर फैसला नहीं, आज फिर बैठक:इंदौर में ज्यादा छूट नहीं, किराना व रियल एस्टेट को राहत संभव

इंदौर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

साप्ताहिक पॉजिटिव दर अधिक रहने के चलते इंदौर में शासन की गाइडलाइन के तहत भी 1 जून से बहुत अधिक रियायत नहीं मिलेगी। कोर ग्रुप की रविवार रात को रेसीडेंसी में हुई बैठक में इस बात पर सहमति बनी कि चरणबद्ध तरीके से ही इंदौर में अनलॉक के लिए आगे बढ़ाया जाएगा और शासन से मिली गाइडलाइन में भी कुछ गतिविधियों जैसे शादियों को फिलहाल मंजूरी नहीं देंगे।

अंतिम संस्कार में भी कम से कम लोगों के साथ ही छूट रहेगी, रेस्त्रां से होम डिलीवरी आदि को सात दिन बाद ही कोरोना की स्थिति को देखते हुए शुरू किया जाएगा। भोपाल की तरह ही बाजारों को सप्ताह में पांच दिन ही खोला जाएगा और शनिवार व रविवार दो दिन पूरी तरह से लॉकडाउन रखा जाएगा।

इस बात पर भी कोर ग्रुप में सहमति रही कि थोक बाजारों को सप्ताह में दो दिन चिह्नित करते हुए अलग-अलग सेक्टर में खोला जाए, जिससे बाजारों में भीड़ नहीं आए। सांसद शंकर लालवानी और मंत्री तुलसी सिलावट ने बताया कि जिला आपदा प्रबंधन समूह की बैठक सोमवार दोपहर में होगी और इसमें सभी जनप्रतिनिधियों से अंतिम सुझाव लेते हुए फैसला ले लिया जाएगा।

अभी सभी क्राइसिस समितियों से आए सुझावों पर चर्चा की गई है। साथ ही समिति लगातार शहर की परिस्थिति को देखते हुए अनलॉक की ओर बढ़ती जाएगी। बैठक में कमिशनर डॉ. पवन कुमार शर्मा, आईजी हरिनारायण चारी मिश्र, कलेक्टर मनीष सिंह, डीआईजी मनीष कपूरिया व अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

अब अनलॉक जरूरी

  • अहिल्या चेंबर के अध्यक्ष रमेश खंडेलवाल ने कहा कि बाजारों को चरणबद्ध तरीके से खोल देना चाहिए। थोक किराना बाजार पांचों दिन खोलने से भीड़ नहीं होगी। रियल सेक्टर खोल रहे हैं तो उससे जुड़ी गतिविधियों को भी खाेलना चाहिए।
  • क्रेडाई चेयरमैन लीलाधर माहेश्वरी ने कहा कि 1 जून से निर्माण गतिविधियों को शुरू कर देना चाहिए। इससे जुड़ी दुकानों से सप्लाय भी कोविड प्रोटोकॉल के साथ होना चाहिए, इससे हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा।
  • महारानी रोड व्यापारी संघ के अध्यक्ष जितेंद्र रामनानी ने कहा कि फ्रिज, कूलर, एसी का कारोबार 15 दिन का ही बचा है, हमें छूट मिलना चाहिए वरना करोड़ों का नुकसान होगा। एमजी रोड ज्वेलर्स एसो. का कहना है कि शोरूम में पूरी सतर्कता रखते हैं, अब बाजार खोल देना चाहिए।
  1. कुछ दिन अनलॉक का असर देखने के बाद अधिक राहत देंगे
  2. मैकेनिक, प्लंबर, इलेक्ट्रिशियन को काम की छूट मिलेगी
  3. थोक बाजार सप्ताह में दिन तय कर खोलने पर विचार
  4. रेस्त्रां से होम डिलीवरी भी सात दिन तक नहीं खोलने का सुझाव
खबरें और भी हैं...