जानिए, एयरफोर्स में अफसर कैसे बनें:इंजीनियरिंग ही नहीं दूसरे सब्जेक्ट के स्टूडेंट्स भी दे सकते हैं एग्जाम, जानिए एक्सपर्ट से

इंदौर6 महीने पहले

इंडियन एयरफोर्स में ऑफिसर बनने का सपना देखने वालों के लिए अच्छी खबर है। इंडियन एयरफोर्स में ऑफिसर बनने के लिए होने वाली AFCAT एग्जाम के फॉर्म भरना 1 दिसंबर से शुरू हो चुके है और आगामी 30 दिसंबर तक भरे जाएंगे। यह एग्जाम साल में दो बार अगस्त और फरवरी महीने में होती है। फरवरी की 12, 13 और 14 तारीख को यह एग्जाम प्रस्तावित है। इस एग्जाम इंजीनियरिंग ही नहीं बल्कि दूसरे सब्जेक्ट के स्टूडेंट्स भी शामिल हो सकते है और इंडियन एयरफोर्स में भर्ती होने का सपना पूरा कर सकते है। चलिए जानते है एक्सपर्ट लखन सिंह यादव (फोर्स डिफेंस एकेडमी इंदौर, निदेशक) से कि कौन-कौन इस एग्जाम के लिए अप्लाय कर सकते हैं, और उनके लिए कितने पर्सेंट और उम्र की सीमा तय की गई हैं।

एक्सपर्ट लखन सिंह यादव के मुताबिक 1 दिसंबर से इस AFCAT एग्जाम के फॉर्म भरना शुरू हो चुके हैं, फॉर्म भरने की यह प्रक्रिया 30 दिसंबर तक चलेगी। वायु सेना में जब अधिकारी बनने की बात होती है तो युवाओं में सब्जेक्ट का डर होता है कि सिर्फ मैथ, फिजिक्स के ही स्टूडेंट्स एयरफोर्स में अधिकारी बन सकते हैं, जबकि इसमें अलग-अलग कैटेगरी हैं जिसमें अलग-अलग सब्जेक्ट के स्टूडेंट्स को मौका मिलता हैं। इंडियन एयरफोर्स में अधिकारी चयन की बात करें तो इसमें दो ब्रांच होती है। एक फ्लाइंग तो दूसरी ग्राउंड ड्यूटी की। फ्लाइंग ब्रांच से आप फ्लाइंग ऑफिसर फाइटर पायलट बनते है। वहीं ग्राउंड ड्यूटी ब्रांच के माध्यम से आप अलग-अलग ड्यूटी संभालते है। इसे भी दो अलग-अलग भाग में बांटा हैं जिसमें एक टेक्निकल और दूसरा नॉन टेक्निकल। टेक्निकल में इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स को तो नॉन टेक्निकल में दूसरे सब्जेक्ट (लॉजिस्टिक, एडमिनिस्ट्रेशन या अकाउंट डिपार्टमेंट) के स्टूडेंट्स को लिया जाता हैं इसलिए हर स्ट्रीम के स्टूडेंट्स इसमें अप्लाय कर सकते हैं।

इन सब्जेक्ट्स के साथ जरूरी है इतने पर्सेंट
एक्सपर्ट लखन सिंह यादव की माने तो इसके लिए एजुकेशन का जो क्राइटेरिया है, उसमें फ्लाइंग ब्रांच के लिए 10+2 में मैथमेटिक्स, फिजिक्स होने के साथ 50% होना चाहिए, जबकि ग्रेजुएशन में 60% होना जरूरी है। वहीं एडमिनिस्ट्रेशन,लॉजिस्टिक्स के लिए12th पास होना जरूरी है, उसमें प्रतिशत का कोई बंधन नहीं हैं। वहीं ग्रेजुएशन आपने किसी भी स्ट्रीम से किया हो, उसमें आपका 60% होना चाहिए। इसके साथ ही फ्लाइंग ऑफिसर के लिए 20 से 24, जबकि नॉन टेक्निकल ग्राउंड ड्यूटी के लिए 20 से 26 वर्ष की उम्र सीमा है।

ऐसे कर सकते है अप्लाय
एक्सपर्ट ने कहा इस एग्जाम के लिए अप्लाय करने के लिए 30 दिसंबर आखरी तारीख है। इसलिए जो स्टूडेंट्स इंडियन एयरफोर्स में जाने का सपना देख रहे है, उन्हें अप्लाय करने में देर नहीं करना चाहिए और एग्जाम की तैयारी शुरू कर देना चाहिए। क्योंकि 60 से 70 दिन ही एग्जाम के लिए शेष है। इस एग्जाम के लिए स्टूडेंट्स careerindianairforce.cdac.in या afcat.cdac.in पर जाकर अप्लाय कर सकते है। एप्लिकेशन की फीस 250 रुपए है। इसके साथ आधार कार्ड भी अनिवार्य है।

खबरें और भी हैं...