एमजीएम मेडिकल कॉलेज व RRCAT में हुआ MOU:अब रिसर्च में बेहतरी के लिए एजुकेशन व टेक्नोलॉजी का होगा आदान-प्रदान

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
MOU के साथ एमजीएम मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. संजय दीक्षित व RRCAT के डायरेक्टर डॉ. शंकर वी. नाखे । - Dainik Bhaskar
MOU के साथ एमजीएम मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. संजय दीक्षित व RRCAT के डायरेक्टर डॉ. शंकर वी. नाखे ।

चिकित्सा शिक्षा में शुमार इंदौर के एमजीएम मेडिकल कॉलेज के छात्रों के रिसर्च एजुकेशन की गुणवत्ता में सुधार लाने के उद्देश्य से इस कॉलेज के छात्र अब शहर के राजा रमन्ना सेंटर फॉर एडवांस्ड टेक्नोलॉजी (RRCAT) इंदौर के साइंटिस्ट्स से टेक्नोलॉजी की स्पेशल ट्रेनिंग लेंगे। इसे लेकर एमजीएम मेडिकल कॉलेज व RRCAT के बीच एक MOU साइन हुआ है।

उक्त MOU अबी 5 साल के लिए हुआ है। इसके तहत एमजीएम मेडिकल कॉलेज के MBBS, BDS, MD, MS, MDS के छात्र, डॉक्टर्स, नर्सिंग स्टाफ, रिसर्च फैलोस आदि को रिसर्च में काफी मजबूती मिलेगी तथा एजुकेशन के स्तर में सुधार होगा। ऐसे ही RRCAT के रिसर्चअर भी अपनी आवश्यकता अनुसार अपने प्रोजेक्ट्स को लेकर एमजीएम मेडिकल कॉलेज की सुविधाओं का लाभ ले सकेंगे। इस तरह दोनों संस्थानों द्वारा एजुकेशन, टेक्नोलॉजी व एडवांसमेंट नॉलेज का आदान-प्रदान होगा।

इसे लेकर कई दिनों से सुगबुगाहट चल रही थी और अब दोनों के बीच उक्त MOU फाइनल हो गया है। शुक्रवार को एमजीएम मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. संजय दीक्षित व RRCAT के डायरेक्टर डॉ. शंकर वी. नाखे ने MOU पर साइन की हैं। MOU के तहत RRCAT के साइंटिस्ट्स अब एमजीएम मेडिकल कॉलेज के छात्रों व डॉक्टरों को रिसर्च में मदद करेंगे। अभी यह MOU पांच साल के लिए किया गया है जिसे बाद में आगे भी बढ़ाया जा सकता है। दोनों के बीच प्रोग्राम और रिसर्च पब्लिकेशन भी संयुक्त रूप से होंगे। इस तरह अब दोनों संस्थाएं एक-दूसरे की मदद से एजुकेशन, रिसर्च व एडवांस नॉलेज को मजबूूत कर सकेंगी तथा इसमें तेजी से सुधार होगा।