इंदौर में 24 घंटे में 8 नए पॉजिटिव:तिलक नगर में 3, कनाडिया, पलासिया, एमआईजी व परदेशीपुरा में एक-एक संक्रमित

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इंदौर में कोरोना ने फिर डराया है। 24 घंटे में कोरोना के 8 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। ये तब है, जब मीटिंग में कलेक्टर ओमिक्रॉन को लेकर आशंका जता चुके हैं। इस बीच 5 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया। एक्टिव मरीजों की संख्या अब 43 हो गई है। जो नए मरीज मिले हैं उनमें तिलक नगर के 3, कनाडिया, पलासिया, एमआईजी व परदेशीपुरा के एक-एक संक्रमित मिले हैं जबकि एक ग्रामीण क्षेत्र का है। सात मरीजों में पांच को एक प्राइवेट हॉस्पिटल में एडमिट किया गया है जबकि दो में से एक खरगोन का है और एक भोपाल का है। ये दोनों अपने किसी रिश्तेदार के यहां आए थे और फिर चले गए। विभाग ने खरगोन व भोपाल को इनकी सूचना दे दी है। जिला प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि मास्क और दूसरे डोज की वैक्सीन जरूर लगवाएं तथा खुद और दूसरों की सुरक्षा का ध्यान रखें।

CMHO डॉ. बीएस सेत्या ने बताया कि सोमवार को 3408 सैंपल टेस्ट किए गए थे। इनमें से 3303 की रिपोर्ट निगेटिव रही। नए पॉजिटिव केस को मिलाकर अब तक इंदौर में 153380 मरीज मिल चुके हैं। इनमें 151944 स्वस्थ हो चुके हैं।

कलेक्टर की ओमिक्रॉन पर चेतावनी

कोरोना के नए वैरिएंट पर इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने चेतावनी दी है। उन्होंने कहा है कि आशंका है कि कोरोना का नया वैरिएंट आ गया हो। उन्होंने इंदौर को चेतावनी देते हुए कहा कि ओमिक्रॉन तेजी से फैलने वाला वायरस है। अगर ये फैला तो 50 से 500 मरीज होने में देर नहीं लगेगी। (यहां क्लिक कर पढ़िए, पूरी खबर)

आज से कोविड केयर सेंटर पर काम

उधर, जिले में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के मद्देनजर आज से कसावट की जाएगी। इसके तहत अधिक से अधिक सैंपलिंग पर जोर दिया जाएगा। इसके साथ ही दूसरे डोज के बचे 10 फीसदी लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया जाएगा। अभी 80 से ज्यादा मोबाइल वेन सक्रिय हैं जो दूरस्थ क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के क्षेत्रों में जाकर उन्हें वैक्सीन लगा रही है। इसी तरह अब राधा स्वामी कोविड केयर सेंटर का विस्तार किया जाएगा। इसी कड़ी में पिछली बार ग्रामीण क्षेत्रों में जिन स्थानों पर कोविड केयर सेंटर बनाए गए थे, उन्हें फिर से बनाया जा रहा है।

ये भी पढ़िए:-

टेस्टिंग तो दूर ट्रैकिंग ही नहीं:MP में 13 दिन में 1668 विदेशी आए, 883 का पता नहीं; हाईरिस्क कंट्री से आए 174 की जांच नहीं

MP में ओमिक्रॉन है या नहीं, दावा कैसे करें?:इंदौर-भोपाल से भेजे गए 218 सैंपल की रिपोर्ट ही नहीं आई; CM ने जताई तीसरी लहर की आशंका

खबरें और भी हैं...