पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Occupation Of Traders In Sheds Built For Produce, Temporarily Reduced The Space In The Vegetable Market From The Auction

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कृषि उपज मंडी का मामला:उपज के लिए बनाए शेड में व्यापारियाें का कब्जा, अस्थाई रूप से सब्जी मंडी में नीलामी हाेने से कम पड़ने लगी जगह

राजगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सोयाबीन की 3 से 4 हजार क्विंटल हाे रही आवक, सब्जी मंडी में शुरू नहीं हाे रहा काराेबार

कृषि उपज मंडी में बने शेड में व्यापारियों ने उपज रखकर कब्जा कर रखा है। यह शेड किसानों की उपज रखने के लिए बनाए थे। कई वर्षों से व्यापारियाें द्वारा शेड का उपयाेग करने से किसानाें काे इसका फायदा नहीं मिल रहा। व्यापारियों द्वारा इनका किराया भी मंडी को नहीं दिया जा रहा। मंडी का संचालन वर्तमान में सब्जी मंडी प्रांगण में हो रहा है। आवक बढ़ने से अब जगह की कमी हाेने लगी है। मंडी सचिव अब सभी से किराया वसूलने व शेड खाली कराने की बात कह रहे हैं।

मंडी में सोयाबीन की प्रतिदिन 3 से 4 हजार क्विंटल की आवक हो रही है। बड़ी संख्या में मंडी में किसान ट्रैक्टरों से अपनी उपज लेकर पहुंच रहे हैं। नीलामी शुरू होने के पूर्व ट्रैक्टरों को शेड के फड़ पर खड़ा रखना पड़ता लेकिन शेड में व्यापारियों द्वारा उपज रखी है।

ऐसे में किसानों को वहां अपनी उपज रखने व नीलामी करने की जगह नहीं मिल रही। किसानों की उपज की नीलामी मंडी प्रांगण में ही निर्मित सब्जी मंडी प्रांगण में की जा रही है। जो कि चेक पोस्ट से दूर भी है। चेक पोस्ट से माइक से दी जा रही सूचनाएं भी किसानों तक नहीं पहुंचती। 5 वर्ष पूर्व अस्थाई रूप से मंडी समिति ने चेक पाेस्ट के पास मंडी शुरू कराई थी। जहां आड़तियों के माध्यम से किसानों की उपज की बिक्री होती है।

यहीं पर सब्जियों की आवक हाेने से स्थान की कमी महसूस की जाने लगी है। अब सब्जी मंडी का संचालन इसी प्रांगण में बने नवीन सब्जी मंडी परिसर में किया जाना है। वर्तमान में सब्जी विक्रेताओं के दोपहिया वाहन एवं सब्जी के वाहन चेक पोस्ट तक खड़े करने से आवागमन भी बाधित होता है। सब्जी मंडी बने 2 वर्ष हो चुके अभी इसमें सब्जियों की खरीदी-बिक्री शुरू नहीं हुई। केवल प्याज एवं लहसुन की खरीदी-बिक्री ही की जा रही है।

व्यापारियाें काे दूसरी जगह देंगे, उपज रखने का लेंगे किराया
^व्यापारियों द्वारा बगैर किराया दिए शेड का प्रयोग किया जा रहा है। अब इसके लिए किराया देना होगा। इसके लिए नोटिस जारी कर दिए हैं। पानी की टंकी के समीप की खाली जगह व्यापारियों को डिपाजिट के आधार पर उपयोग के लिए दी जाएगी। वहीं नवीन सब्जी मंडी के दलालों को भी 6-6 लाख रु. में व्यापार करने के लिए जगह दी जाएगी। सभी को वर्तमान में 2-2 लाख रु. जमा कराने के लिए नोटिस दिए हैं। अब शीघ्र ही इसे शुरू किया जाएगा।
एचएल पाटीदार, सचिव, कृषि उपज मंडी राजगढ़

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें