मध्यप्रदेश:मरीजों का आंकड़ा 300 पार, 2 मौत ...और अच्छी बात, 8 ही नए केस, 7 डिस्चार्ज

इंदौर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना के प्रकोप से सबसे ज्यादा प्रभावित शहरों में शामिल इंदौर में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 300 पार हो गया है। रविवार को 8 नए संक्रमित मिलने से मरीजों की संख्या 306 हो गई, जबकि दो ने दम तोड़ दिया। अब्दुल रहीम खान (70) निवासी मोती तबेला और बाबूलाल पिता बलराम (65) निवासी सोमनाथ की चाल की इलाज के दौरान मृत्यु हो गई। शनिवार को इन दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई, लेकिन इससे पहले ही इनकी मृत्यु हो चुकी थी। अब मरीजों की संख्या और मौत के अनुपात के लिहाज से कोविड-19 के मरीजों की मृत्यु दर 10.74 प्रतिशत के लगभग हो गई है।  इधर, मेडिकल कॉलेज की रिपोर्ट में 159 सैंपलों में से 138 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इसमें कुंदन नगर की 80 वर्षीय बुजुर्ग महिला, नयापुरा के 45 और सिद्धार्थ नगर के 42 वर्षीय पुरुष, रतलाम कोठी के 73 वर्षीय बुजुर्ग, 23 वर्षीय युवती, अंबिकापुरी का 16 वर्ष का किशोर, ब्रह्मबाग की 56 वर्षीय महिला और टाटपट्‌टी बाखल का 45 वर्षीय पुरुष हैं। हालांकि राज्य सरकार की रिपाेर्ट में 13 नए पॉजिटिव बताए गए हैं। कलेक्टर ने चोइथराम, अरिहंत, मयूर, विशेष, सुयश और सिनर्जी अस्पताल को रेड और येलो कैटेगरी में शामिल किया है। इनमें पॉजिटिव और संदिग्ध दोनों का इलाज होगा।

खुशी : टीबी अस्पताल से 7 स्वस्थ मरीज घर लौटे, स्टाफ ने हौसला बढ़ाकर दी विदाई

एमआर टीबी अस्पताल से रविवार को सात मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया। इनमें 2 लोग खरगोन जिले के हैं, बाकी पांच टाटपट्‌टी बाखल के। डॉक्टर्स व अन्य स्टॉफ ने तालियां बजाकर उन्हें विदा किया। घर रवाना हुए टाटपट्टी बाखल के इमरान खान ने बताते हैं- कोरोना से घबराए नहीं, समय पर जांच कराए, इलाज लें तो इस बीमारी से ठीक हुआ जा सकता है। वहीं, कहकशां बी कहती हैं कि भविष्य में भी हम एहतियात बरतेंगे। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करेंगे। खरगोन जिले के आसन गांव में रहने वाले ललित नागर ने बताया कि वह पिछले महीने ही पेरिस से वापस आए। यहां पता चला की कोरोना हो गया है। मुझे और परिवार को बेहद चिंता हुई। हालांकि आवश्यक सावधानियां बरती जाए, तो यह बीमारी होगी ही नहीं।  - खरगोन जिले के ही नूर मोहम्मद भी डिस्चार्ज होने के बाद बेहद खुश है। उन्होंने कहना उच्च स्तरीय इलाज कर स्वस्थ किया गया। मैं पूरी तरह से संतुष्ट होकर घर जा रहा हूं। हौसला और जज्बा होगा तो बीमारी की जंग आसानी से जीती जा सकेगी।  - टाटपट्टी बाखल के रहने वाली नजमा बी, अनीशा बी और मोहम्मद फरहान भी बहुत खुश नजर आए। इन सभी ने शासन-प्रशासन, डॉक्टर्स, नर्स आदि का शुक्रिया अदा किया। धन्यवाद देते हुए कहा बहुत अच्छा इलाज हुआ है। हमने कोरोना वायरस की लड़ाई को जीत लिया है। सभी ने अन्य लोगों से भी अपील की कि बीमारी को छुपाए नहीं। समय रहते बताएं, इलाज कराएं और स्वस्थ रहें।

खौफ: पत्थर फेंकने वाले 2 और पॉजिटिव, वायरस से बचने को गंजे हुए सिपाही

चंदन नगर इलाके में पुलिस पर पथराव करने वाले दो और आरोपी इमरान और समीर कोरोना संक्रमित निकले हैं। रविवार को सतना पुलिस ने इनके पॉजिटिव होने की सूचना पुलिस व प्रशासन को दी। इसके बाद पश्चिम क्षेत्र के करीब 63 पुलिस अफसरों व कर्मचारियों की जांच करवाई गई। जिनकी जांच हुई, उनमें एएसपी मनीष खत्री, सीएसपी पुनीत गहलोद, टीआई चंदन नगर वायएस तोमर सहित उनके महकमे और डीआरपी लाइन के पुलिसकर्मी शामिल हैं। पुलिसकर्मियों में भी कोराना वायरस का खौफ दिखने लगा है। चंदन नगर की घटना के दौरान मौके पर रहे चंदन नगर थाने के कुछ पुलिसकर्मियों ने अपना सिर मंुडवा लिया है। इन्होंने ऐसा इसलिए किया कि कहीं बालों के जरिये वायरस ना लग जाए। एएसपी खत्री के मुताबिक, 7 अप्रैल को पुलिसकर्मी सुरेंद्र और नसुस सदस्य के साथ बदसलूकी और पथराव के मामले में निवासी चंदू वाला रोड को गिरफ्तार कर रासुका में सतना जेल भेजा था। वहां इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद जेल प्रशासन ने इन्हें क्वारेंटाइन कर दिया है। अब इनके परिजन को क्वारेंटाइन करवाने के साथ सबकी जांच करवा रहे हैं। पथराव के बाद गिरफ्तार करने वाले जवानों, उनसे पूछताछ करने वाले अफसर, थाना स्टॉफ, लाइन के पुलिसकर्मी, सतना ले जाने वाले कर्मचारी सभी की जांच करवाई है। इससे पहले शनिवार को इसी पथराव की घटना में शामिल एक अन्य आरोपी जावेद खान की जबलपुर जेल में रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। उसमें जबलपुर तक ले जाने वाले थाने के 10 और डीआरपी लाइन के 8 पुलिसकर्मियों को पहले ही होम क्वारेंटाइन किया जा चुका है। जावेद के पिता नासिर को गिरफ्तार किया था, अब उन्हें और उसकी मां को भी क्वारेंटाइन किया है। सभी आरोपियों के पड़ोसियों की भी जांच करवा रहे हैं।

37 वर्षीय उद्योगपति की मृत्यु, पहली रिपोर्ट निगेटिव
रविवार को नीलकंठ कॉलोनी निवासी रेडीमेड व्यवसायी चिराग भंडारी (37) की मृत्यु हो गई। सांस लेने में तकलीफ और बुखार के कारण उन्हें विशेष हॉस्पिटल में भर्ती किया था। कोरोना की आशंका में उनकी जांच भी हुई, लेकिन रिपोर्ट निगेटिव आई। परिजन के मुताबिक, उन्हें सात दिन पहले बुखार आया था। दवाइयों से हालत नहीं सुधरी तो अस्पताल में भर्ती किया। अब उनका सैंपल फिर जांच में भेजा है, रिपोर्ट सोमवार तक आएगी।

हम होंगे कामयाब... आईजी ने गाना गा बढ़ाया हौसला

पुलिसकर्मियों का हौसला बढ़ाने के लिए आईजी विवेक शर्मा ने वायरलैस सेट पर सुबह 11 बजे एक संदेश प्रसारित किया। उन्होंने हम होंगे कामयाब गीत गाया और कहा- इस मुश्किल घड़ी में हमारे कई साथी गिरेंगे, लेकिन हम गिरने नहीं देंगे। ध्यान रहे लोग घरों में बंद हैं, उनकी मानसिकता को समझें। किसी पर भी बल प्रयोग न करें। कोई कर्फ्यू का उल्लघंन करता है तो सजा के तौर पर अपने साथ 2 घंटे चौराहे पर ड्यूटी करवाएं। उनका वीडियो वायरल करें, ताकि उन्हें अहसास हो कि पुलिस धूप में ड्यूटी कैसे करती है। 

इस पूरी लड़ाई में आपको डिसीप्लिन और टीम वर्क ही जीताएगा। इस वक्त आप खुश रहें और एक दूजे का मनोबल बढ़ाएं। इसी तरह के विचारों के साथ हम रोजाना सुबह 11 बजे वायरलेस सेट पर इसी तरह से एकजुट होंगे। कोई भी साथी अपनी मन की बात, विचार या अनुभव बेखौफ होकर शेयर करें। कोई प्रस्तुति देकर मोटिवेट करना चाहे तो वह भी कर सकता है। - विवेक शर्मा, आईजी इंदौर रेंज (जैसा उन्होंने वायरलैस सेट पर कहा)

बिना मास्क घूम रहे 38 लोगों पर कार्रवाई
कर्फ्यू उल्लघंन के साथ-साथ अब पुलिस ने बिना मास्क के घूमने वालों पर कार्रवाई शरू कर दी है। रविवार को 38 लोगों को बिना मास्क के घूमते हुए पकड़ा गया। कर्फ्यू का उल्लघंन करने वाले 60 लोगों पर धारा 188 में केस दर्ज कर उनकी गाड़ियां जब्त की।

विशेष फ्लाइट से 1142 सैंपल दिल्ली भेजे
शहर और आसपास के जिलों से बड़ी संख्या में आ रही कोरोना के सैंपलों को देखते हुए प्रशासन ने इन्हें विशेष फ्लाइट से दिल्ली जांच के लिए भेजा है। संभागायुक्त के मुताबिक, सरकार से बात कर 1142 सैंपल दिल्ली भिजवाए हैं, ताकि रिपोर्ट दो दिन के भीतर आ सके।  

कोरोना से लड़ने को 32 डॉक्टर और मिलेंगे
महामारी और डॉक्टरों की कमी को देखते हुए सरकार ने अन्य जिलों से 32 डॉक्टरों को इंदौर भेजने का निर्णय लिया है। जिन जिलों से डॉक्टर आ रहे हैं, उनमें गुना, कटनी, आलीराजपुर, मुरैना, रीवा, छतरपुर, सिवनी, अनूपपुर, भिंड, झाबुआ, दतिया शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...