• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Police Could Not Find Three year old Bunty, The Kidnapped Woman Of The Newborn Was Also Out Of Grip

शहर के दो सनसनीखेज अपहरण पुलिस के हाथ खाली:3 साल के बंटी को नहीं तलाश पाई पुलिस; नवजात की अपहरणकर्ता महिला भी पकड़ से बाहर

इंदौर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एमवाई में बच्चा चोरी की घटना - Dainik Bhaskar
एमवाई में बच्चा चोरी की घटना

शहर के दो चर्चित और सनसनीखेज अपहरण के मामलों में पुलिस महीनों बाद भी खाली हाथ है। तीन साल के बच्चे को तलाशने के लिए चलाया गया हर ऑपरेशन खाली गया। वहीं नवजात की अपहरणकर्ता महिला भी पुलिस के हाथ नहीं लगी।

पहला मामला तीन साल के बंटी का है, जो छोटी ग्वालटोली से महज कुछ दूरी पर माता पिता जे बीच से 3 जनवरी 2019 की रात लापता हो गया था। पहले पुलिस उसे आसपास के मैदान, गड्ढे और कुएं में तलाशती रही, लेकिन बाद में सीसीसीटी में अपहरणकर्ता बच्चे को ले जाता दिखाई दिया। इस मामले में तत्कालीन टीआई डीवीएस नागर ने बड़े स्तर पर अभियान चलाकर आसपास के गांवों और डेरों तक वेश बदलकर सिपाही भेजे, लेकिन बंटी का कुछ पता नहीं। आज में पुलिस के कागजों में वह लापता बनकर रह गया।व र्तमान में बंटी की उम्र साढ़े पांच साल होगी, जिसे पहचाने जाना अब मुश्किल सा है।

दूसरा मामला महज तीन दिन के नवजात का है। जिसे 8 नंवबर 2020 को नर्स बनकर महिला मुंह पर सकॉर्फ डालकर एमवाय अस्पताल में घुसी और बच्चे को अपने साथ ले गइ थी। इस मामले में इंदौर पुलिस ने शहरभर में अपना जाल बिछाया, जिसमें एक सप्ताह के अंदर ही अपहरणकर्ता महिला ने बच्चे को सयोगितगंज थाने के बाहर छोड़ दिया, लेकिन अपराधी महिला पुलिस के हाथ से कोसों दूर हो गई। अब तक अपहरणकर्ता महिला का कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। उसकी जांच की फाइल भी पुलिस बन्द करने की तैयारी में है।

सरवटे बस स्टैंड से बच्चा हुआ था चोरी
सरवटे बस स्टैंड से बच्चा हुआ था चोरी

450 से ज्यादा मोपेड खंगाले,150 से ज्यादा कैमरे

नवजात के अपहरण के मामले में फरार महिला को पकड़ने के लिए बाद में पुलिस ने 450 मेस्ट्रो गाड़ियों को खांगला इसके साथ ही शहर भर के चोराहे पर कंट्रोल रूम के कैमरों के साथ 150 से अधिक निजी कैमरे खंगाले गए, लेकिन महिला की कोई जानकरी हाथ नहीं आई।

क्या कहते है अधिकारी

इस मामले में आईजी हरिनारायण चारी ने बताया कि दोनों मामलों में फाइल बन्द नहीं की गई है। साथ ही क्राइम ब्रांच के साथ स्थानीय पुलिस भी मुखबिरों के माध्यम से जानकारी इकट्‌ठा करती रहती है। जिसमे जल्द ही बंटी को ढूंढने के साथ ही नवजात का अपहरण करने वाली महिला को जल्द गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेजा जाएगा। इसमें कौन शामिल है इसका जल्द खुलासा भी किया जाएगा।