• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Police Will Investigate 4 More Tables With 7 Friends In The Bar And Those Who Drink The Same Alcohol

शराब पीने के बाद मौत का मामला:बार में 7 दोस्तों के साथ 4 और टेबलों पर वही शराब पीने वालों की जांच करेगी पुलिस

इंदौर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तीन दिन बाद भी नहीं आ पाई विसरा रिपोर्ट

पैराडाइज बार में साथ में शराब पीने के बाद तबीयत बिगड़ने से हुई मौत के मामले में पुलिस ने बार के फुटेज और बिल जांचे हैं। पुलिस ने पाया कि वहां कुछ और टेबलें भी लगी थीं। इसमें से चार टेबलों पर वही शराब थी, जो इन दोस्तों ने पी थी। पुलिस अब फुटेज के आधार पर चार टेबलों पर बैठे युवकों को खोजकर उनकी जानकारी भी निकालेगी। उधर, गुरुवार को विसरा रिपोर्ट आने वाली थी, लेकिन शाम तक पुलिस को उसकी कोई जानकारी नहीं मिली है। अफसरों का कहना है कि संभवतः शुक्रवार को पूरी रिपोर्ट मिल जाएगी।

ग्राहकों के बिल जब्त किए, फुटेज के आधार पर कर रहे तलाश

एरोड्रम पुलिस के अनुसार पैराडाइज बार में शराब पीने के बाद हुई तीन लोगों की मौत के मामले में परिजन के बयान होना बाकी हैं। उधर, पुलिस ने जब बार के कैमरों को खंगाला तो पाया कि 23 जुलाई को एक टेबल पर सात दोस्त बैठे थे, जिसमें दुर्गेशसिंह तोमर को छोड़कर सभी शराब पी रहे थे। इसी दिन शाम को चार और टेबलों पर वही शराब थी। उनके बिल भी पुलिस ने जब्त कर लिए हैं।

अब पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उन लोगों की भी तलाश करेगी। हालांकि कुछ को बार संचालक जोगी यादव जानता है, इसलिए उन लोगों को भी बुलाएंगे। पुलिस का कहना है उसके बाद भी तीन-चार दिन तक यही शराब वहां लोगों ने पी थी। हालांकि बार संचालक को पुलिस ने हिरासत में ले रखा है, जबकि सपना व पैराडाइज दोनों बारों को सील कर रखा है।

दोस्तों का अड्डा था बार, सभी नियमित कस्टमर थे

स्कीम नंबर 51 में रहने वाले युवाओं ने बताया कि आठ दोस्त शिशिर उर्फ छोटू तिवारी, सागर पाटिल, जितेंद्र निगम, गणेश, अमित, दुर्गेश और अभिषेक अग्निहोत्री का पैराडाइज बार में आना-जाना था। दिनभर में कोई न कोई दोस्त वहां मिल ही जाता था। यानी वे उसके रेग्युलर कस्टमर थे। वहां पर स्विमिंग पूल की सुविधा थी, जो इन दोस्तों के लिए फ्री थी, इसलिए भी इन लोगों ने वहीं अपना शराब पीने का ठिकाना बना लिया था।

खबरें और भी हैं...