गुंडे की खुली चुनौती:इंदौर में गिरफ्तारी पर भाई ने लिखा- अभी 307 हुई है, 302 बाकी; पुलिस बोली- डंडे से ठीक करेंगे

इंदौर2 दिन पहले

चाकूबाजी के आरोपी के भाई ने इंदौर पुलिस को सोशल मीडिया पर चुनौती दी है। एक गुंडे और उसके साथी ने 9 अक्टूबर को द्वारकापुरी इलाके में भविष्य निधि के कर्मचारी की पीठ पर चाकू मारा था। पुलिस ने रविवार को दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। दोनों जेल में हैं।

रिलेक्स गार्डन के पीछे का है। सुनील चौहान निवासी ऋषि पैलेस कॉलोनी और उसके साथी संदीप प्रजापत ने शनिवार रात सोनू सोलंकी की पीठ में चाकू मार दिया था। सुनील के भाई दिनेश ने फेसबुक पर पोस्ट डाला है। इसमें उसने खबर के साथ लिखा- अभी तो 307 (यह धारा जानलेवा हमले में लगती है) हुई है। 302 (यह धारा मर्डर में लगती है) बाकी है।

वह खुद को मुंबई का डॉन माया भाई भी बता रहा है। साथ ही लिखा है- वक्त का इंतजार करिए जनाब। बेहतर नहीं, बहुत बेहतरीन जवाब दिया जाएगा।

सुनील पर कई अपराध दर्ज
सुनील पर पहले भी तोड़फोड़, मारपीट और चाकूबाजी के अपराध दर्ज हैं। कुछ दिन पहले उसने रात में थाने के सामने ही हंगामा किया था। उस पर हाथ डालने में पुलिस भी घबराती है। रविवार को जब पुलिस ने उसका पीछा किया तो वह दीवार फांदकर कूद गया। इस दौरान उसका एक हाथ और पैर टूट गया। उसके साथी के हाथ-पैर में फ्रैक्चर आया है।

गुंडे के भाई पर भी करेंगे केस

ASP प्रशांत चौबे के मुताबिक, मामले में उन्हें जानकारी मिली है। दिनेश ने जो फोटो पोस्ट की है, वो अपराध की श्रेणी में आती है। उस पर केस दर्ज किया जाएगा। साथ ही सड़क पर डंडे मारकर उनकी बदमाशी भी दूर की जाएगी।

सुनील और उसका साथी अब जेल में हैं।
सुनील और उसका साथी अब जेल में हैं।

घूरने पर पीछा कर मारा था चाकू
घटना 9 अक्टूबर की रात की है। रिलेक्स गार्डन के पीछे सोनू सोलंकी को बाइक से आए बदमाश पीठ पर चाकू मारकर भागे थे। दोनों की घटना से कुछ दिन पहले सोनू से कहासुनी हो गई थी- वो भी घूरने की बात पर। इसके बाद उन्होंने रैकी कर चाकू मारा। इसके दूसरे दिन रविवार को पुलिस को दोनों के फूटी कोठी में छिपे होने की जानकारी मिली। पुलिस ने घेराबंदी की तो दोनों ने दीवार फांदकर भागने की कोशिश की, इसमें उनके हाथ-पैर फ्रैक्चर हो गए।