पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा 2020- PART 2:फॉर्मेट तय करें कि कितने दिन में किस सब्जेक्ट को पूरा करना है, सरल टॉपिक्स से शुरुआत करें

इंदौर2 महीने पहले

जनवरी माह में प्रस्तावित पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा-2020 में परीक्षार्थियों के पास कम समय बचा है। इस समय का सदुपयोग कर कैसे पढ़ाई करें, जिससे उनकी पूरी तैयारी हो। ये सब हम जानेंगे एक्सपर्ट लखन यादव (निदेशक, फोर्स डिफेंस एकेडमी) से। उनके मुताबिक परीक्षार्थियों को इस वक्त अनुशासन में रहकर पढ़ाई करने की जरूरत है। आइए उन्हें से जानते है…./strong>.

लखन यादव ने बताया कि परीक्षा के लिए बाकी बचे समय में अनुशासन का बड़ा रोल है। अनुशासन में विद्यार्थी समय का सदुपयोग करने के साथ लगन और दृढ़ संकल्प से अपने कोर्स को करेंगे। कम से कम 8 से 10 घंटे तैयारी को देंगे, तो वे तय समय में पूरा कोर्स कर सकते हैं। इस वक्त विद्यार्थियों सोशल मीडिया से दूर रह सकते हैं, ताकि पढ़ाई में कोई डिस्ट्रेक्शन न हो। विद्यार्थी खुद का फॉर्मेट तय करें कि उन्हें कितने दिनों में क्या-क्या करना है। हर स्टूडेंट का पढ़ाई में अपना फेवरेट पार्ट और टॉपिक्स होता है, इसलिए स्टूडेंट्स पहले सरल टॉपिक्स से शुरू करें, ताकि कम दिनों में उनके फेवरेट टॉपिक्स ज्यादा अच्छे से तैयार हो सकेंगे। ज्यादा टॉपिक्स तैयार होने से स्टूडेंट्स में पॉजिटिव एनर्जी भी मिलेगी। इसके बाद कठिन टॉपिक्स को करें।

लगातार बढ़ाते रहें अपने कदम

वे बोले- मंजिल को एक फलांग लगाकर नहीं पाया जा सकता। कदम-कदम बढ़ाते जाने से आप मंजिल की ओर बढ़ते जाएंगे। वह आपको मिल जाएगी। धीरे-धीरे, लेकिन लगातार कदम बढ़ाने होंगे। ध्यान रखिए ब्रेक नहीं लेना है। निरंतरता के साथ पढ़ाई करना है। खरगोश और कछुए की रेस में कछुआ इसलिए ही जीता है, क्योंकि वह रुकता नहीं है। वह लगातार बढ़ता रहता है। एमपी बोर्ड के परीक्षार्थी, एमबी बोर्ड के साथ-साथ सीबीएसई बोर्ड की एनसीईआरटी की किताबें (9वीं-10वीं) का मैचअप कर लेते हैं, तो उन्हें ज्यादा परेशानी नहीं आएगी। एक पब्लिकेशन के भरोसे न बैठें। एक से ज्यादा पब्लिकेशन की किताबें, इसमें मैथ और रीजनिंग के लिए जरूर लगाएं। इससे प्रश्नों में वैराइटी मिलेगी। ये वैराइटी ही परीक्षा में आपके चेहरे पर मुस्कान लाएगी।

ऑनलाइन में पीडीएफ के साथ किताबों पर भी ध्यान दें

जो ऑनलाइन तैयारी कर रहे हैं, वह अच्छा माध्यम है, लेकिन यह ध्यान रखने की जरूरत है। आप क्लास रूम में जाकर नहीं बैठे हैं। ऐसे में किताबों से दूरी स्वाभाविक हो जाती है। सिर्फ पीडीएफ के भरोसे न रहें। पीडीएफ सॉल्व करने के अलावा जो स्पेसिफिक सब्जेक्ट हैं, जिसमें मैथ, रीजनिंग, मप्र, साइंस, जीके इनके लिए किताबें जरूर फॉलो करें, ताकि आप सभी टॉपिक्स से परिचित रहें। किताबों पर भी गौर करने की जरुरत है। एनसीईआरटी के साथ मैथ के लिए अरिहंत, मप्र के लिए पुणेकर और महावीर पब्लिकेशन की किताबों से आप काफी अच्छे से आगे बढ़ सकते हैं।

पुलिस कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा-2020:मैथ्स और रीजनिंग पर ज्यादा फोकस की सलाह, एक्सपर्ट बोले- 60 सवाल इन्हीं सब्जेक्ट से आते हैं

सेंट्रल बैंक में नौकरियां:115 पदों के लिए 23 नवंबर से आवेदन, 17 दिसंबर लास्ट डेट; ऑनलाइन होगा एग्जाम