पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Rajesh, Who Made The Video, Said He Was Throwing Away The Elderly By Throwing Them, Saying That He Was Making Indore Dirty, His Condition Was Very Bad

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इंदौर नगर निगम इंसानियत भूला:पीड़ित ने बताया- मेरी अंधी मां समेत 15 लोगों को वे उठाकर ले गए, हम भूखे-प्यासे परेशान होते रहे

इंदौर3 महीने पहलेलेखक: राजीव कुमार तिवारी
  • प्रियंका गांधी बोलीं- सरकार माफी मांगे और बड़े अफसरों पर कार्रवाई हो
  • सोनू सूद मदद को आगे आए, कहा- पीड़ितों के रहने-खाने का इंतजाम करना चाहता हूं

देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर में नगर निगम के कर्मचारी सफाई के नाम पर इंसानियत भूल गए। उन्होंने भीख मांगकर गुजारा करने वाले बुजुर्गों को वाहनों में भरकर एक जगह से दूसरी जगह ले जाकर छोड़ दिया। बुजुर्गों को गाड़ी में चढ़ाते-उतारते वक्त उनकी हालत का भी ख्याल नहीं किया। ऐसे ही एक पीड़ित ने दैनिक भास्कर को आपबीती बताई। वहीं एक दुकानदार भी बात करने को सामने आए जिन्होंने निगम कर्मचारियों की हरकत का वीडियो बनाया था।

मेरी अंधी मां चल नहीं सकती, लेकिन निगम वाले भूखे-प्यासे भटकाते रहे
पीड़ित बुजुर्गों का हाल जानने दैनिक भास्कर की टीम शनिवार को ढक्कनवाला कुएं के पास स्थित टीबी हॉस्पिटल परिसर में बने रैन बसेरे में पहुंची। यहां रामू, सूजी बाई और अमरावती बाई बिस्तर पर लेटे मिले। रामू से पूरी घटना जाननी चाही तो उनकी आंखें छलक आईं। रोते हुए बोले कि देखो ये मेरी अंधी मां है। इससे चलते नहीं बनता है, लेकिन निगम वाले परेशान करते हैं। वे कहते हैं कि तुम सड़क पर नहीं रहोगे।

रामू ने आगे बताया कि 20 साल से हम शिवाजी वाटिका के पास रह रहे थे, निगम वालों ने हमें दूसरी जगह ले जाकर छोड़ दिया, जब लोगों ने विरोध किया तो हमें भरकर वापस लाए और रैन बसेरे में छोड़ गए। इस बीच हमारे खाने-पीने का कोई इंतजाम नहीं था। हमें भूखे-प्यासे ही भटकाते रहे।

पीड़ित सूजी बाई और उनके बेटे रामू। रामू ने बताया कि निगम वाले सुबह 10 बजे उठाकर ले गए और 4 घंटे तक भटकाते रहे।
पीड़ित सूजी बाई और उनके बेटे रामू। रामू ने बताया कि निगम वाले सुबह 10 बजे उठाकर ले गए और 4 घंटे तक भटकाते रहे।

निगम वाले बुजुर्गों को उठा-उठा कर पटक रहे थे
शिप्रा इलाके में निगम कर्मचारियों की हरकत का वीडियो बनाने वाले दुकानदार राजेश जोशी ने बताया कि नगर निगम की गाड़ी में कुछ बुजुर्गों को लाया गया था। निगम के कर्मचारी सभी को उतारने लगे, जो नहीं उतर पा रहे थे उन्हें उठा-उठाकर पटक रहे थे। मैंने वहां जाकर वीडियो बनाना शुरू कर दिया और निगम कर्मचारियों से पूछा कि इन लोगों को यहां क्यों उतार रहे हो। उन्होंने जवाब दिया कि सरकार का आदेश है, ये लोग इंदौर में गंदगी फैला रहे हैं।

राजेश ने कहा कि जब हम वापस आने लगे तो देखा कि निगम कर्मचारी बुजुर्गों को छोड़कर जा रहे थे। हमने उनकी गाड़ी रुकवाई और सभी बुजुर्गों को गाड़ी में फिर से बिठवाया। जिन्हें गाड़ी से उतारा गया था, उनकी हालत खराब थी। वे ठीक से चल भी नहीं पा रहे थे। इसमें 10-12 बुजुर्ग थे, 2 महिलाएं भी थीं। उनके कपड़े सड़क पर पड़े हुए थे।

निगम कर्मचारियों ने बुजुर्गों हालत का भी ध्यान नहीं रखा, बल्कि उन्हें जल्दबाजी में गाड़ी में धकेलते रहे।
निगम कर्मचारियों ने बुजुर्गों हालत का भी ध्यान नहीं रखा, बल्कि उन्हें जल्दबाजी में गाड़ी में धकेलते रहे।

सोनू सूद मदद को आगे आए
इंदौर नगर निगम की बेरहमी के शिकार लोगों की मदद के लिए एक्टर सोनू सूद आगे आए हैं। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि मैं इन लोगों को हक दिलाने के साथ ही इन्हें छत देना चाहता हूं। इनके खाने-पीने और बाकी चीजों का इंतजाम करने की कोशिश भी करूंगा, लेकिन यह आपके साथ के बिना मुश्किल है। जो बच्चे अपने मां-बाप को अकेला छोड़ देते हैं, उन्हें सीख लेनी चाहिए कि अपने मां-पिता को प्यार दें, उनका ध्यान रखें। हम मिलकर ऐसी मिसाल पेश करें कि हमारे बुजुर्ग कभी भी अकेला महसूस नहीं करें।

देखिए कैसे इंदौर नगर निगमकर्मियों ने बेसहारा लोगों को डंपर में भरकर शहर से बाहर फेंका था

प्रियंका गांधी बोलीं- बड़े अफसरों पर एक्शन होना चाहिए

डिप्टी कमिश्नर सस्पेंड, 2 कर्मचारी टर्मिनेट
CM शिवराज सिंह चौहान इस मामले में नाराजगी जता चुके हैं। बुजुर्गों को शिफ्ट करने की जिम्मेदारी संभाल रहे डिप्टी कमिश्नर को सरकार ने सस्पेंड कर दिया है। साथ ही 2 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया गया है। वहीं इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि जिस तरह बुजुर्गों को शिप्रा इलाके में छोड़ने की कोशिश की गई, वह गलत है। कायदा यह है कि ऐसे लोगों को रैन बसेरे में शिफ्ट किया जाए।

पूर्व CM कमलनाथ बोले- प्रदेश शर्मसार हुआ

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

और पढ़ें