साथी प्यार से कहते थे राजा:गुना गोलीबारी में शहीद राजकुमार का इंदौर से था नाता

इंदौर3 महीने पहले

गुना में बीती रात हुई गोलीबारी में शहीद हुए एसआई राज कुमार जाटव का इंदौर से गहरा नाता रहा है। वर्ष 2017 में ट्रेनिंग के बाद उनकी पहली पोस्टिंग इंदौर के तुकोगंज थाने में हुई थी। उन्होंने इंदौर के हनीट्रैप मामले में काफी अच्छा काम किया। उनकी शहादत की खबर सुनने के बाद तुकोगंज थाने में शनिवार पूरे स्टाफ ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। साथी बैचमेट उन्हें प्यार से राजा कहकर बुलाते थे।

थाना प्रभारी कमलेश शर्मा ने बताया कि राज कुमार जाटव ​​​​​​की वर्ष 2018 में तुकोगंज थाने में पोस्टिंग हुई थी। इंदौर में हुए प्रदेश के चर्चित हनीट्रैप कांड में उन्होंने कई अहम दस्तावेज भी बरामद किए थे। मामले में मुख्य आरोपी जीतू सोनी की होटल से कई अहम सबूत भी उन्होंने जमा किए थे। वे तीन साल तक इंदौर में पदस्थ रहे। तुकोगंज थाने में सब इंस्पेक्टर का प्रभार भी संभाला। जाटव की डेढ़ साल पहले ही शादी हुई थी। उनकी 3 माह की बेटी है।

थाने के स्टाफ ने 2 मिनट का मौन रख दिए श्रद्धा सुमन अर्पित
थाने के स्टाफ ने 2 मिनट का मौन रख दिए श्रद्धा सुमन अर्पित

इंदौर में बुलाते थे उन्हें राजा

राजकुमार की बैच के लगभग 70 पुलिसकर्मी इंदौर में पदस्थ हैं। उनके दोस्त जयदीप राठौड़ ने बताया कि वर्ष 2019 में राज कुमार जाटव और उनकी शादी साथ में ही हुई थी। पिता कुछ माह पहले ही गुना के नजदीक से रिटायर हुए थे। उनकी 1 साल की बेटी है ।

अन्य थानों के स्टाफ ने दी श्रद्धांजलि
अन्य थानों के स्टाफ ने दी श्रद्धांजलि