इंदौर में लिफ्ट नहीं देने पर हत्या:बॉम्बे हॉस्पिटल के पास रियल एस्टेट कर्मचारी से युवती ने लिफ्ट मांगी, नहीं दी तो उसके साथियों ने सीने में चाकू घोंप दिया

इंदौर19 दिन पहले

इंदौर में बॉम्बे हॉस्पिटल के पास अपने दोस्तों के साथ आई युवती ने बाइक पर जा रहे रियल एस्टेट कर्मचारी से लिफ्ट मांगी। नहीं दी तो उसके दो साथियों ने सीने और पीठ पर चाकू घोंप दिया। आरोपियों ने ताबड़तोड़ पांच वार कर दिए। कुछ घंटों बाद युवक की मौत हो गई।

लसूड़िया थाना प्रभारी इंद्रमणि पटेल के अनुसार, घटना बुधवार देर रात 2 बजे की है। महालक्ष्मी MR-3 में देवांग देवांशु मिश्रा अपने दोस्त सतीश के साथ पार्टी से बाइक पर लौट रहा था। सतीश ने बताया कि बॉम्बे हॉस्पिटल के नजदीक बाइक से आए हमलावरों ने हमारी गाड़ी को ओवरटेक किया। बदमाशों ने अपने साथ आई लड़की को साथ ले जाने को कहा। इस बात पर बहस हुई और हमलावरों ने देवांशु पर चाकू से वार कर दिया। एक वार हार्ट के पास, दो पीठ पर और दो वार पीठ के नीचे लगे। सतीश ने घायल हालत में देवांशु को उसके कमरे पर ले जाकर सुला दिया। देवांशु का कमरा घटनास्थल से करीब दो किलोमीटर दूर है।

रीवा के देवांशु की 4 माह पहले भोपाल में हुई थी शादी
देवांशु रीवा का रहने वाला था। कुछ महीने पहले ही इंदौर आया था। यहां वह रियल एस्टेट कंपनी फ्यूचर लैंडमार्क में सीनियर सेल्स डायरेक्टर था। 4 महीने पहले ही भोपाल में उसकी शादी हुई थी। मकान मालिक के अनुसार, वह अपने परिवार के साथ इंदौर शिफ्ट होने की तैयारी कर रहा था।

घटनास्थल से साक्ष्य जुटाती पुलिस टीम।
घटनास्थल से साक्ष्य जुटाती पुलिस टीम।

पुलिस को दोस्त की कहानी पर शक
पुलिस का कहना है कि घटना बॉम्बे हॉस्पिटल से महज 100 फीट दूर की है। सतीश चाहता तो देवांशु को पहले अस्पताल ले जाता, लेकिन वह उसे लेकर घर चला गया। सतीश से पूछताछ की जा रही है। TI इंद्रमणि पटेल का कहना कि यह तो साफ है कि हत्या हुई है, लेकिन सतीश जो कहानी बता रहा है, उसमें विरोधाभास है। मामला संदिग्ध लग रहा है।

FSL अधिकारियों ने कहा- शरीर पर 5 घाव
मौके पर पहुंची FSL टीम के अधिकारियों का कहना है कि देवांशु के शरीर पर 5 से अधिक चाकू से वार के निशान हैं। शरीर से खून अधिक बहने के कारण उसकी मौत हुई है। पुलिस को सतीश ने लूट की घटना की बात भी बताई है। इस एंगल पर भी पुलिस जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं...