• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Said In A Joking Manner; What To Do, If False Cases Are Being Registered Then You Have To Come

इंदौर में ताई से मिले दिग्गी:ताई ने पूछा-आज इंदौर कैसे आना हुआ तो दिग्गी मजाकिया लहजे में बोले- झूठे केस दर्ज किए जा रहे हैं तो आना पड़ता है

इंदौर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ताई-दिग्विजय सिंह की सौजन्य भेंट। - Dainik Bhaskar
ताई-दिग्विजय सिंह की सौजन्य भेंट।

इंदौर में सोमवार को कांग्रेस की रैली खत्म होने के बाद दिग्विजय सिंह पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन (ताई) से मिलने उनके घर पुहंचे। लंबे समय बाद दोनों की यह सौजन्य भेंट थी। इस दौरान नई-पुरानी राजनीतिक चर्चाएं चलीं और हंसी-ठिठोली भी हुई। ताई ने मजाकिया लहजे में पूछा कि आज इंदौर कैसे आना हुआ तो दिग्विजयसिंह ने भी चुटकी लेते हुए कहा कि क्या करें ताई? हमारे कार्यकर्ताओं पर झूठे केस दर्ज किए जा रहे हैं, उन्हें जिलाबदर किया जा रहा है, इसलिए आना पड़ता है।

दोपहर में कमिश्नर डॉ. पवन कुमार शर्मा को ज्ञापन देने के बाद अचानक दिग्विजय सिंह ने ताई से मिलने की इच्छा जताई और मनीषपुरी रवाना हुए। इस दौरान उनके साथ शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल, पूर्व पार्षद सुरजीत सिंह व अन्य कांग्रेसी थे। यहां दोनों ने पुराने राजनीतिक घटनाक्रम की यादें ताजा कीं। इसके साथ ही वर्तमान के हालातों पर बात की।

दिग्विजय सिंह ने कहा कि जो कुछ चल रहा है, सब सामने है। जब कार्यकर्ताओं पर कोई संकट आता है तो इंदौर आना मेरा दायित्व है। इस दौरान कुछ पुराने मामलों को लेकर दोनों ने चुटकियां भी लीं। इस दौरान ताई ने सुरजीत सिंह को लेकर कहा कि यह आपका अच्छा कार्यकर्ता है और इंदौर आने पर हर समय आपके साथ रहता है। करीब आधा घंटा सामान्य चर्चा के बाद दिग्विजय सिंह रवाना हो गए।

ताई के घर थावरचंद गेहलोत से रूबरू होते कार्यकर्ता।
ताई के घर थावरचंद गेहलोत से रूबरू होते कार्यकर्ता।

राज्यपाल थावरचंद गेहलोत भी मिले
दिग्विजय सिंह के जाते ही कुछ देर बाद कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गेहलोत ताई के घर आए और सौजन्य मुलाकात की। इस मुलाकात में भी दोनों ने राज्य और देश के राजनीतिक हालातों के बारे में चर्चा की। यहां ताई ने गेहलोत से अपने समर्थकों का परिचय कराया।

खबरें और भी हैं...