एडमिशन मैराथन:सीईटी की इसी माह होगी सेकंड काउंसलिंग, 18 को कमेटी करेगी फैसला

इंदौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कॉलेजाें ने एडमिशन के लिए 14 दिन का अतिरिक्त समय मांगा है। - Dainik Bhaskar
कॉलेजाें ने एडमिशन के लिए 14 दिन का अतिरिक्त समय मांगा है।
  • रजिस्ट्रेशन की लिंक 20 अक्टूबर तक खुलेगी, छात्रों के पास 16 अक्टूबर की रात 12 बजे तक है फीस भरने का मौका

देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी के कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (सीईटी) की दूसरी काउंसलिंग इसी माह होगी। 18 अक्टूबर को सीईटी कमेटी की अहम बैठक होना है। पहली काउंसलिंग में जिन छात्रों को कोर्स अलॉट हुआ है, उन्हें 16 अक्टूबर की रात 12 बजे तक फीस जमा करना होगी, जो छात्र फीस जमा नहीं करेंगे, उन्हें सीट नहीं मिलेगी। फिलहाल 2510 में से 2100 सीटें अलॉट हुई हैं। 400 सीटें खाली हैं, लेकिन 16 अक्टूबर के बाद कुछ और सीटें खाली हो सकती हैं। फिर 20 अक्टूबर के आसपास उन छात्रों को रजिस्ट्रेशन का अवसर मिलेगा, जिन्होंने परीक्षा तो दी थी, लेकिन काउंसलिंग का रजिस्ट्रेशन नहीं कराया था।

दो शिफ्ट में पहली बार एनटीए ने कराई थी परीक्षा

एनटीए ने 31 अगस्त और 4 सितंबर को दो शिफ्ट में सीईटी कराई थी। इसमें कुल 14 हजार से ज्यादा छात्र शामिल हुए थे। डीएवीवी के 16 टीचिंग विभागों के 41 कोर्स के लिए यह परीक्षा हुई थी।

आज फीस भरने का अंतिम अवसर, कॉलेजों ने 14 दिन और मांगे

इंदाैर कॉलेजाें में परंपरागत कोर्स में एडमिशन का बुधवार काे अंतिम दिन था। बीकॉम, बीए, बीएससी, बीबीए जैसे यूजी कोर्स और एमकॉम, एमए, एमएससी जैसे पीजी कोर्स में ऑनलाइन एडमिशन के लिए 14 अक्टूबर की शाम तक ऑनलाइन फीस भरने का माैका है, वहीं ऑफलाइन एडमिशन के लिए भी अंतिम मौका है। हालांकि कॉलेजाें ने एडमिशन के लिए 14 दिन का अतिरिक्त समय मांगा है। शासन ने बुधवार काे चर्चा की। संभावना है कि 21 तारीख तक एडमिशन की समय-सीमा बढ़ाई जा सकती है। लेकिन अगर तारीख नहीं बढ़ी ताे इंदाैर में ही 5 हजार से ज्यादा छात्र एडमिशन से वंचित रह जाएंगे।

सीटें खाली रहने की छात्राें व कॉलेजाें ने की शिकायत

कॉलेजाें व उच्च शिक्षा विभाग की शिकायत यह है कि सीटें खाली हाेने के बाद भी 30% छात्राें काे पसंद का कॉलेज नहीं दिया जा रहा है। छात्राें का कहना है वेटिंग लिस्ट जारी की जाना चाहिए।

एमबीए : शहर के 52 मैनेजमेंट कॉलेजाें में एमबीए फुल टाइम के लिए रजिस्ट्रेशन 18 से 20 अक्टूबर तक हाेंगे। 17 की शाम तक उन छात्राें काे फीस भरना हाेगी, जिन्हें दूसरे राउंड में कॉलेज अलॉट हुए हैं।

सरकारी कॉलेज फुल : ज्यादातर सरकारी कॉलेजाें में 25% सीटें बढ़ाई गईं। ये भी भर चुकी हैं। वहीं निजी कॉलेजाें में अभी भी 26 फीसदी सीटें खाली हैं। यदि अगला राउंड हाेता है ताे ये सीटें भर जाएंगी।

खबरें और भी हैं...