जावेद अख्तर के बयान पर पलटवार:महामंडलेश्वर राधे राधे बाबा ने कहा- वह पागल हो गए हैं, ऐसे लोगों को तालिबान भेज दें; देशद्रोह का मामला दर्ज हो

इंदौर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महामंडलेश्वर राधे राधे बाबा। - Dainik Bhaskar
महामंडलेश्वर राधे राधे बाबा।

मशहूर गीतकार, शायर, स्क्रिप्ट राइटर जावेद अख्तर के संघ और तालिबान को लेकर दिए गए बयान पर इंदौर में भी आक्रोश है। विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल के सदस्य महामंडलेश्वर राधे राधे बाबा ने पलटवार किया। उन्होंने वीडियो जारी करके कहा कि जावेद अख्तर को पागल बताया। इसके साथ ही संघ जॉइन करते हुए सीखने की बात कही है। बाबा ने अख्तर को तालिबान भेजने और केस दर्ज करने की बात भी कही है।

राधे राधे बाबा अखिल भारतीय संत समिति के संयुक्त राष्ट्रीय महामंत्री भी हैं। मंगलवार को उनका एक वीडियो सामने आया है। इसमें उन्होंने जावेद अख्तर के बारे में कहा है कि वह पागल हो गए हैं। इसको संघ की क्लास में आकर पढ़ना चाहिए। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद यह सभी राष्ट्रभक्ति वाले संगठन हैं। इन्हें एक बार संघ की पाठशाला में आकर पढ़ना चाहिए। इस आर्यावर्त देश में हिंदुस्तान में जितने भी लोग हैं, वह सभी हिंदू हैं। हिंदू की संतान हैं।

जावेद अख्तर जैसे लोगों को तालिबान और अफगानिस्तान भेज देना चाहिए। ऐसे लोगों की भारत में आवश्यकता नहीं है। ऐसे लोगों के ऊपर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दायर होना चाहिए। अखिल भारतीय संत समिति इसकी घोर निंदा करती है जिन लोगों को तालिबान, पाकिस्तान अफगानिस्तान से प्रेम है। वे चले जाएं, यहां पर हिंदुस्तान के हिंदू प्रेमी लोग ही रहते हैं।

यह कहा था जावेद अख्तर ने
एक इंटरव्यू में जावेद अख्तर ने कहा था कि आरएसएस का समर्थन करने वालों की मानसिकता भी तालिबानियों जैसी ही है। आरएसएस का समर्थन करने वालों को आत्म परीक्षण करना चाहिए। ' उन्होंने आगे कहा, 'आप जिनका समर्थन कर रहे हैं, उनमें और तालिबान में क्या अंतर है? उनकी जमीन मजबूत हो रही है और वे अपने टारगेट की तरफ बढ़ रहे हैं। दोनों की मानसिकता एक ही है।'