पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Shahdol SP, Now Satyendra Kumar Shukla, Now Commanded Ujjain District, Ujjain SP Manoj Singh Has Been Called To Bhopal

इंदौर:शहडोल एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला को अब उज्जैन जिले की कमान, उज्जैन एसपी मनोज सिंह को भोपाल भेजा गया

इंदौर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
उज्जैन के नए एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला।
  • इंदौर पीटीसी में तैनात अवधेश कुमार गोस्वामी को शहडोल जिले का एसपी बनाया गया
  • उज्जैन में जहरीली शराब से 15 लाेगाें की माैत के मामले में सिंह को हटाया गया

उज्जैन जहरीली शराब कांड में एसआईटी जांच के बाद दो बड़े अधिकारियों पर गाज गिरी है। मुख्यमंत्री के आदेश पर एसपी मनोज सिंह को उज्जैन से हटाकर भोपाल भेजा गया। वहीं, उज्जैन जिले की कमान अब शहडोल एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला के हाथों में सौंपी गई है। उधर, इंदौर में पीटीसी एसपी अवधेश कुमार गोस्वामी को शहडोल जिले का एसपी बनाया गया है।

इस कारण हुआ फेरबदल
उज्जैन में जहरीली शराब से 15 लाेगाें की माैत के मामले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को उज्जैन एसपी मनाेज सिंह काे हटाने और सीएसपी रजनीश कश्यप को निलंबित करने के निर्देश दिए थे। रविवार काे मामले काे लेकर मुख्यमंत्री निवास पर बैठक हुई। जिसमें एसआई चीफ अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा ने रिपोर्ट की जानकारी सीएम को दी। सीएम के आदेश के बाद शहडोल एसपी को उज्जैन, जबकि इंदौर पीटीसी एसपी को शहडोल की कमान सौंपी गई।

सीएसपी रहते प्रो. सभरवाल मर्डर केस में हटाए गए थे
अगस्त 2006 में दिनदहाड़े राजनीति शास्त्र विभागाध्यक्ष डॉ. हरभजन सिंह सभरवाल की माधव कॉलेज में हत्या कर दी गई थी। काफी विरोध होने पर उस समय माधवनगर सीएसपी रहे मनोज कुमार सिंह को उज्जैन से हटा दिया गया था। कोरोना संकट के दौर में उन्होंने एसपी सचिनकुमार अतुलकर के भोपाल तबादले के बाद उज्जैन की कमान एक बार फिर से संभाली थी। उस समय वे आगर-मालवा एसपी थे।

अधिकारी का नामवर्तमान पद स्थापनानवीन पदस्थापना
अवधेश कुमार गोस्वामीएसपी पीटीसी इंदौरएसपी शहडोल
मनोज कुमार सिंहएसपी उज्जैनपीएक्यू भोपाल
सत्येंद्र कुमार शुक्लाएसपी शहडोलएसपी उज्जैन

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें