• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Still Waiting In The West, Improvement In The East, The Townspeople Are Facing The Punishment For The Negligence Of Ramki's Company

कंपनी की लापरवाही से आधा इंदौर प्यासा:पल्हरनगर, महेश यादव नगर, स्कीम 51, संगम नगर में पानी के लिए इंतजार, खजराना, पीपल्याहाना, स्कीम 140 में सप्लाई कल से

इंदौर17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शहर का पश्चिम इलाके बुरी तरह से पानी को तरस रहा है। ये बूंद-बूंद के लिए संघर्ष कर रहे है, लेकिन उन्हें पानी नहीं मिल रहा। इसका मुख्य कारण रामकी कंपनी की लापरवाही को बताया जा रहा है। क्योंकि इनकी गड़बड़ी की सजा पूरे शहरवासी भुगत रहे हैं। दो जगह रामकी कंपनी द्वारा कार्य किया जा रहा है। इसमें यशवंत सागर में 700 एमएल के पाइप में लीकेज सुधार का कार्य छह दिन से चल रहा है।

यहां पांचवें दिन यानी बुधवार देर-रात को लाइन चालू की गई। डायरेक्ट सप्लाई किया गया, लेकिन थोड़ी देर बाद पाइप के रिपेयर किए गए जॉइंट फिर खुल गए। इससे हर तरफ पानी ही पानी भरा गया, क्योंकि लाइन में पानी भरा था। बूडानिया स्थित खेत तालाब में तब्दील हो गए है। क्योंकि यशवंत सागर का पानी सस्ता है, लेकिन उसकी कदर जिम्मेदारों को नहीं है, इसलिए छह दिन हो गए हैं। लाइन सुधरने का नाम नहीं ले रही है।

परिवार भुगत रहे परेशानी
इसे कमाल ही कहेंगे कि 700 एमएम की लाइन में 750 एमएम पाइप का जॉइंट लगाया गया। ये जॉइंट पांच घंटे भी नहीं चला और फिर से लीकेज हो गया। इससे बूडानिया में खाली पड़ी जमीन तालाब में तब्दील हो गई। जानकारी लगते ही अफसरों की टीम तत्काल मौके पर पहुंची। सुधार कार्य फिर से शुरू करवा दिया गया। इस कारण किला मैदान, पलहर नगर और संगम नगर पानी की टंकी के कंठ छठे दिन भी सूखे रहे। क्योंकि ये यशवंत सागर की लाइन से जुड़ी हुई है, इसीलिए ये छह दिन से भरा नहीं रही है।

आधा इंदौर 4 दिन से प्यासा:जलूद का लीकेज नहीं हुआ ठीक, यशवंत सागर और पूर्वी क्षेत्र में तृतीय चरण लाइन पर भी चल रहा दुरुस्तीकरण काम

रिंग रोड का काम पुरा अब जागी उम्मीद
पूर्वी रिंग रोड पर तीन से काम चल रहा है। इस कारण 6 टंकियां खाली हैं। यहां 1100 एमएम व्यास की नर्मदा तृतीय चरण की मुख्य टंकी भरने वाली पाइप लाइन पर ईएमएफ लगाने का कार्य किया गया है। साथ ही, खजराना चौराहे पर 400 व 600 का इंटर कनेक्शन का कार्य रामकी कंपनी द्वारा किया गया। इससे पूर्वी रिंग रोड की सभी टंकियों के पानी का हिसाब रखा जा सकेगा। इसीलिए तीन दिन से जनता को पानी के लिए तरसा गया।

ये काम फटाफट किया जाना था, लेकिन कंपनी की लापरवाही का खामियाजा शहर की जनता को भुगतना पड़ रहा है। इस कारण नानक नगर, स्कीम न 94, शिव नगर, महावीर नगर, स्कीम न 140 और खजराना टंकी के कंठ सूखे रहे। अब लाइन को ठीक करने का दावा किया जा रहा है, लेकिन सच्चाई शुक्रवार सुबह जब पानी लोगों को मिलेगा, तो पता चलेगा कि किस तरह का काम रामकी कंपनी द्वारा किया जा रहा है।

हम प्रयास कर रहे हैं
यशवंत सागर में दोबारा जॉइंट में लीकेज हो गया है, इसीलिए उसे सुधारने का काम रामकी कंपनी द्वारा किया जा रहा है। इसी तरह रिंग रोड का काम भी शाम तक पूरा कर लिया गया है। अब पानी सप्लाय की स्थिति सामान्य होना शुरू हो जाएगी। मंडलेश्वर से 450 एमएलडी पानी इंदौर को मिल रहा है। कोशिश है कि सभी इलाकों में पानी पहुंचाया जाए। इसकी प्लानिंग की गई है। हम इसके लिए निरंतर प्रयास कर रहे हैं।
संजीव श्रीवास्तव, कार्यपालन यंत्री, नर्मदा प्रोजेक्ट

खबरें और भी हैं...