• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Sun Will Enter Capricorn Today At 2.28 Pm, The Day Of Gods Is Starting After Six Months, People Will Worship In Homes

मकर संक्रांति:सूर्य आज दोपहर 2.28 बजे मकर राशि में करेंगे प्रवेश, छह माह बाद देवताओं का शुरू हो रहा दिन, लोग घरों में करेंगे आराधना

इंदौर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गुड़, तिल, ऊनी वस्त्र दान करने का है विशेष महत्व। - Dainik Bhaskar
गुड़, तिल, ऊनी वस्त्र दान करने का है विशेष महत्व।

सूर्यदेव शुक्रवार को धनु से मकर राशि में प्रवेश करेंगे। इस दिन मकर संक्रांति पर्व मनाया जाएगा। कोरोना के चलते इस बार ज्यादातर लोग मंदिरों के बजाय घरों में ही सूर्य देव को अर्घ्य देकर पूजन-अर्चन करेंगे। ज्योतिष गणना के अनुसार सूर्य का मकर राशि में प्रवेश दोपहर 2.28 बजे होगा, इसलिए इसका पुण्यकाल सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक होगा, जो बहुत ही शुभ संयोग है, क्योंकि इस पुण्यकाल का लाभ दिनभर लिया जा सकता है।

इस दिन गुड़, काले तिल, कंबल, ऊनी वस्त्र आदि दान करने से शनि, राहु आदि ग्रहों की पीड़ा से शांति व राहत मिलेगी। वहीं, गुरुवार को सिंधी व सिख समाज द्वारा लाललोई और लोहड़ी पर्व मनाया गया। इस दिन समाजजनों ने पूजन कर सुख-समृद्धि की कामना की।

पौराणिक कथाओं के अनुसार

ज्योतिषाचार्य विजय त्रिवेदी ने बताया जिस प्रकार जन सामान्य के लिए रात्रि के पश्चात सूर्योदय होता है उसी प्रकार देवताओं की रात्रि (सूर्य की कर्क संक्रांति से धनु संक्रांति तक) छह महीने के बाद देवताओं का दिन, सूर्य के मकर राशि में प्रवेश से शुरू होता है। पौराणिक कथा अनुसार ग्रहों के राजा सूर्यदेव इसी दिन अपने पुत्र शनि से मिलने जाते हैं। पिता-पुत्र के इस मिलन को ही मकर संक्रांति के रूप में मनाते हैं।

भाजपा महिला माेर्चा ने की पतंगबाजी

भाजपा महिला मोर्चा ने गुरुवार काे संक्रांति पर्व गांधी हॉल में मनाया। कार्यकर्ताओं ने पतंग उड़ाई, गिल्ली डंडा खेला। कार्यक्रम में पद्‌मा भोजे, ज्योति तोमर, उमाशशि शर्मा, शैलजा मिश्रा, वीणा शर्मा, संध्या यादव, साधना दगडे, कविता यादव, कंचन गिदवानी आदि मौजूद थीं।

‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ अभियान आज से : उधर, मप्र महिला कांग्रेस शुक्रवार से महिला शक्ति को सुदृढ़, सशक्त बनाने के लिए ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ अभियान की शुरुआत करेगी। विनीता पाठक ने बताया अभियान की शुरुआत छावनी मुराई मोहल्ला में सुबह 9 बजे से होगी।

सिंधी समाज- परिक्रमा लगाई, कुरीतियां खत्म करने के संकल्प के साथ मनाया लाललोई पर्व

सिंधी समाज द्वारा गुरुवार को लाललोई पर्व मनाया गया। महिलाओं और बालिकाओं ने पूजन किया और लाललोई जलाकर लोई माता की पूजा की। परिक्रमा करते हुए कुरीतियों को खत्म करने का संकल्प लिया। नरेश फुंदवानी ने बताया यह पर्व सिंधी बाहुल्य क्षेत्रों सिंधी कॉलोनी, सिंधु नगर, जयरामपुर कॉलोनी आदि में मनाया गया। सार्वजनिक महोत्सव समिति जयरामपुर कॉलोनी के प्रकाश लालवानी, सचिव अनिल आगा ने बताया शुक्रवार को सिंधी समाज द्वारा तिरअमुरी का त्योहार मनाया जाएगा।

सिख समाज- महिलाओं ने गाए मंगल गीत, रेवड़ी और मक्का की धानी का चढ़ाया प्रसाद

सिख समाज द्वारा लोहड़ी पर्व संत नगर, विष्णुपुरी, प्रताप नगर, बैराठी कॉलोनी आदि जगह मनाया गया। खंडवा रोड स्थित संत नगर कॉलोनी के इंदरजीतसिंह चड्ढा ने बताया पंजाब में फसल कटने के उपलक्ष्य में लोहड़ी पर्व हर्षोल्लास से मनाया जाता है। घरों में गुड़ तैयार किया गया। मक्का की धानी बनाई गई।

गुड़-तिल की रेवड़ी भी बनाई गई। परिवार के लोगों ने एकत्रित होकर लोई सजाई। रात को लोई को जलाकर महिलाओं ने मंगल गीत गाते हुए परिक्रमा कर रेवड़ी और मक्का की धानी का प्रसाद चढ़ाया।

खबरें और भी हैं...