पुलिस पर दुष्कर्म के आरोपी से साठगांठ का आरोप:इंदौर में दुष्कर्म का आरोपी सरपंच पति दे रहा है पीड़िता और गर्भ में पल रहे बच्चे को जान से मारने की धमकी; डीआईजी से की शिकायत

इंदौर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इंदौर के पूर्व तेजाजी नगर थाने में 3 दिन पहले एक महिला ने सरपंच पति के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था, लेकिन आरोपी काे पुलिस अब तक गिरफ्तार नहीं कर पाई है। आरोपी पीड़िता और उसके गर्भ में पल रहे बच्चे को जान से मारने की धमकी दे रहा है। युवती ने इस संबंध में डीआईजी से शिकायत की। उसने पुलिस पर साठगांठ करके आरोपी सरपंच पति को बचाने का भी आरोप लगाया है।

पीड़िता डीआईजी मनीष कपूरिया के पास अपनी गुहार लेकर पहुंची थी। उसने आरोप लगाया कि केस दर्ज होने के बाद भी धमका रहा है। उसका रिश्तेदार सूबेदार है। उसी ने फरार करवाया है। युवती के मुताबिक जब उसने रिपोर्ट कराने की बात कही तो मेरे दो साल के बच्चे को दूसरी मंजिल से नीचे लटकाकर धमकी दी कि मुंह खोला तो इसे मार दूंगा। डराने के लिए घर में पिस्टल से गोलियां भी चलाई। सबूत के तौर पर गोलियों के खाली खोखे हैं और दीवार पर निशान भी।
सरपंच पति पर दुष्कर्म का केस:सोशल मीडिया पर हुई युवती से दोस्ती, आरोपी पहले ही कर चुका है दो शादी

यह था मामला

तीन दिन पूर्व 26 वर्षीय युवती ने तेजाजी नगर थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। युवती के मुताबिक विजय बिलोनिया से सोशल मीडिया पर दोस्ती हुई थी। विजय की पत्नी सरपंच है। दोस्ती धीरे-धीरे प्यार में बदल गई।इस दौरान वह गर्भवती हो गई। जब उसने शादी की बात कही तो सरपंच पति ने जान से मारने की धमकी दी। युवती के मुताबिक आरोपी ने दो शादियां पहले कर चुका है। अपनी पहली पत्नी वर्षा को मार डाला और उसे आत्महत्या घोषित कर चुका है। हालांकि युवती का पहले से ही 2 साल का बेटा है।

खबरें और भी हैं...