• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • The Home Minister Got Angry At The Push, Some People Stood With Umbrellas To Get Ration Amid The Rain, While Some Kept Lurking Here And There

इंदौर में अन्न उत्सव में फजीहत:धक्का-मुक्की पर नाराज हुए गृह मंत्री, बारिश के बीच राशन लेने कुछ लोग छाता लेकर खड़े रहे तो कुछ इधर-उधर दुबकते रहे

इंदौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राशन की दुकान पर  ऐसी थी भीड़। - Dainik Bhaskar
राशन की दुकान पर ऐसी थी भीड़।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत इंदौर की राशन की दुकानों पर उत्सवी माहौल बनाने के मामले में बारिश का खलल तो रहा ही, लेकिन मूसाखेड़ी में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मप्र के लोगों से बातचीत व भाषण के बाद काफी धक्का-मुक्की हुई।

दरअसल, मोदी का भाषण खत्म होने के बाद यहां प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा के हाथों कुछ हितग्राहियों को राशन वितरण होना था, लेकिन भीड़ बढ़ गई। इस बीच मीडियाकर्मियों ने मिश्रा को घेर लिया। खूब धक्का-मुक्की हुई। परिसर से ही लगी राशन की दुकान पर वह अवलोकन करने गए तो यहां भी धक्का-मुक्की हुई। इस पर मिश्रा बमुश्किल एक मिनट अवलोकन कर पाए। फिर नाराजगी भरे अंदाज में मीडिया से बात नहीं करते हुए रेसीडेंसी रवाना हो गए।

… और माइक बंद करना पड़ा

कार्यक्रम में मोदी के भाषण के पहले मिश्रा, गोवा के खाद्य मंत्री गोविंद गावडे आदि संबोधित कर चुके थे। फिर सभी ने मोदी के लाइव प्रोग्राम मंच से देखा। इस बीच दो-तीन मिनट के लिए लाइव कार्यक्रम डिस्कनेक्ट हो गया। इस पर लोग स्थानीय व्यवस्था को कोसने लगे लेकिन, फिर जैसे ही प्रोग्राम कनेक्ट हुआ। प्रधानमंत्री ने खुद कहा कि कुछ मिनट के लिए डिस्कनेक्ट हो गया था, तो अधिकारियों ने राहत की सांस ली, लेकिन स्थानीय बिजली संबंधी दिक्कत नहीं थी।

इधर, कार्यक्रम खत्म होते ही मंच के पास काफी भीड़ लग गई। इस बीच हितग्राहियों को मंच पर ही राशन वितरण शुरू कर दिया गया। हालांकि इसमें कुछेक हितग्राहियों को ही लिया गया था बाकी को राशन की दुकान पर लेने को कहा गया था लेकिन फिर भी लोग आगे आने की जिद कर रहे थे और भीड़ बढ़ गई और फिर मीडिया ने भी मिश्र को घेर लिया। इस पर नेताओं ने महिला संचालनकर्ता को कहा कि वह माइक बंद कर दें।

भीड़ के कारण बाहर जाकर खड़े हो गए लोग

उधर, परिसर में लगी राशन की दुकान को गुब्बारे, कारपेट, फूलों से सजाया गया था। इसके साथ ही ढोल-ढमाकों के साथ लोक नृत्य, मंगल गान कार्यक्रम भी शुरू होना था लेकिन जैसे ही कार्यक्रम खत्म हुआ तो बारिश शुरू हो गई। मिश्रा व अन्य नेता दुकान तक पहुंचे तो ढोलक का शोर-शराबा, भीड़ और मीडिया की धक्का-मुक्की शुरू हो गई। इसके बावजूद कुछ लोग लाइन में लगे तो कुछ पास की दुकान की छत के नीचे खड़े हो गए। कुछ लोग छाते लेकर लाइन में लग गए। मिश्रा के जाने के बाद स्थिति सामान्य हुई और हितग्राहियों को परिसर के शेड में कुर्सियों पर बैठकर इंतजार करने को कहा गया और फिर राशन वितरण शुरू हुआ।

राशन की दुकान पर भीड़ के कारण बाहर खड़े हो गए लोग।
राशन की दुकान पर भीड़ के कारण बाहर खड़े हो गए लोग।

इधर, मंत्री के हाथों सम्मान पाकर ये खुश

इधर, प्रभारी मंत्री मिश्रा के हाथों थैले में सम्मान के साथ राशन पाकर उपभोक्ता बेहद खुश थे। उनका कहना था कि मंत्री के हाथों हमें सम्मान से राशन मिलना हमारे लिए गौरव की बात है। उपभोक्ता छगनलाल, रवि, शोभा पति मोहन, पुष्पा और संगीता बाई प्रसन्न थी। उनका कहना था कि हमें निमंत्रण देकर राशन लेने के लिए आमंत्रित किया गया। जब दुकान पर आए तो तिलक लगाकर हमारा स्वागत किया गया। जब राशन लेने की बारी आयी तो मंत्री के हाथों हमें थैले में राशन मिला। यह हमने सोचा भी नहीं था। पहले हमें राशन लेने के लिए लाइन में लगना पड़ता था। कई बार तो स्थिति ऐसी हो जाती थी कि बगैर राशन लिए ही घर लौट जाना होता था।

खबरें और भी हैं...