पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिस्टम की लापरवाही:युवक की मौत के 28 दिन बाद आया मैसेज- आप कोविड पॉजिटिव

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्वास्थ्य विभाग के सिस्टम की लापरवाही का एक और उदाहरण सामने आया है। वीआईपी परस्पर नगर में रहने वाले कृष्णपालसिंह (विशाल) ठाकुर की कोरोना से 30 अप्रैल को मृत्यु हो गई थी। उनके परिजन को 28 दिन बाद 27 मई की रात को स्वास्थ्य विभाग का मैसेज आया कि विशाल ने 14 अप्रैल को जाे सैंपल दिया था, उसकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

भर्ती होने की स्थिति में वे आयुष्मान योजना का लाभ लें। उनकी पत्नी नेहा ने बताया कि ये बहुत दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है, क्योंकि जब 20 अप्रैल को उनकी तबीयत बिगड़ी तब शहर का कोई भी अस्पताल भर्ती करने को तैयार नहीं था। जैसे-तैसे लक्ष्मी मेमोरियल में भर्ती कराया तो रेमडेसिविर इंजेक्शन की दिक्कत आ गई।

बाजार से हमने ब्लैक में 20 से 25 हजार रुपए में ये इंजेक्शन खरीदे। प्रशासन या स्वास्थ्य विभाग से किसी तरह की मदद नहीं मिली। एक तो संक्रमित होने का मैसेज 28 दिन बाद भेजा और फिर ये भी कह रहे कि आयुष्मान योजना का लाभ लें, जबकि हमारे पास ऐसा कोई कार्ड नहीं था।

खबरें और भी हैं...