• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • The Pride Padyatra Of Independence Will Run For 9 Hours In All The Five Assemblies Of Indore

इंदौर की राजनीति में अब 'यात्रा वॉर':आज पांचों विधानसभा में 9 घंटे तिरंगा अभियान, 11 किमी की कांग्रेस की आजादी गौरव पदयात्रा

इंदौर6 महीने पहले

आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के तहत इंदौर में कांग्रेस ने पार्टी भाजपा से 10 गुना लंबी आजादी की गौरव पदयात्रा का आगाज किया। रविवार सुबह ये यात्रा किला मैदान पर झांसी की रानी प्रतिमा स्थल से शुरू हुई जो शहर की विभिन्न विधानसभाओं में भ्रमण करेगी। गीता भवन स्थित अंबेडकर प्रतिमा चौराहे पर इस यात्रा का समापन होगा। अनुमान लगाया जा रहा है कि 8 से 9 घंटे ये यात्रा शहर की सड़कों पर रहेगी। दरअसल, इंदौर में शुक्रवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान की तिरंगा यात्रा निकली थी। इस यात्रा का रुट करीब डेढ़ किमी का था। अब कांग्रेस आजादी की गौरव पदयात्रा निकालने जा रही है। ये यात्रा 11 किमी की रहेगी, जिसमें कांग्रेस के कई नेता और कार्यकर्ता शामिल होंगे।

भाजपा से 10 गुना लंबी होगी यात्रा
कांग्रेस की इस पदयात्रा की बात करें तो ये भाजपा की तिरंगा यात्रा से दस गुना लंबी होगी। यानी कांग्रेस की ये यात्रा 11 किमी की रहेगी। इस यात्रा को मप्र विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह हरी झंडी देकर रवाना करेंगे। साथ ही वे मुख्य अतिथि के रूप में इस यात्रा में शामिल भी होंगे।

यह रहेगा यात्रा का रूट
शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने बताया कि आजादी की गौरव पदयात्रा सुबह करीब 8.30 बजे झांसी की रानी प्रतिमा स्थल से शुरु हुई जो जिंसी से बड़ा गणपति चौराहा यहां से राजमोहल्ला चौराहा, जवाहर मार्ग से राजबाड़ा होकर रीगल चौराहा, मालवा मील, पाटनीपुरा, एमआईजी थाना, नेहरु नगर, जंजीरवाला चौराहा, घंटाघर चौराहे से आंबेडकर प्रतिमा चौराहे पर यात्रा का समापन होगा।

कांग्रेस बताएगी युवाओं को इतिहास
बाकलीवाल ने कहा कि पदयात्रा के लिए कई स्वागत मंच बनाए गए हैं इस यात्रा के माध्यम से महात्मा गांधी के सिद्धांतों और आजादी के लिए किए गए बलिदानों का सही इतिहास युवाओं को बताया जाएगा। ये यात्रा करीब 8 से 9 घंटे शहर की विभिन्न विधानसभाओं में भ्रमण करेगी। इस पदयात्रा में विधायक, पूर्व ‌विधायक, वरिष्ठ कांग्रेस नेता, पार्षद, पार्षद प्रत्याशी, कांग्रेस पदाधिकारियों, सेवादल, महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, एनएसयूआई सहित सभी मोर्चा, संगठन एवं प्रकोष्ठों के कार्यकर्ता शामिल रहेंगे।