कार्रवाई की एक वजह यह भी:इंदौर निगम ने जिस जमीन पर स्ट्रक्चर तोड़े, उसके मालिकों ने 22 लाख के टैक्स की चोरी की

इंदाैर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार सुबह टीम ने कार्रवाई की। - Dainik Bhaskar
मंगलवार सुबह टीम ने कार्रवाई की।

नगर निगम की टीम मंगलवार सुबह कनाड़िया इलाके में कार्रवlई के लिए पहुंची। यहां 16 हजार स्क्वेयर फीट पर बिना परमिशन के बना लिए गए टीनशेड स्ट्रक्चर गिरा दिए गए। जानकारी सामने आई है कि निगम से परमिशन नहीं लेने के अलावा जमीन मालिकों पर लाखों रुपए का टैक्स भी बकाया है।

यहां बिना अनुमति के निर्माण का काम किया जा रहा था। कुछ दिन पहले जब नगर निगम की टीम यहां निरीक्षण करने पहुंची थी, तो विवाद कर उन्हें यहां से रवाना कर दिया गया। इसकी जानकारी अफसरों तक पहुंचीं और मंगलवार को इसे जमींदोज करने का काम शुरू कर दिया गया।

अपर आयुक्त संदीप सोनी के मुताबिक, मयंक ब्लू वॉटर पार्क के पास निर्मला राधेश्याम पटेल और सुधांशु शर्मा के बिना अनुमति बनाए गए निर्माण गिरा दिए गए। दोनों पर करीब 22 लाख का टैक्स बकाया है। अपर आयुक्त के मुताबिक, इस मामले में कई बार जानकारी मांगी गई, लेकिन जमीन मालिकों की तरफ से गोलमोल जवाब पेश किया जाते रहा।

बिना परमिशन वाली प्रॉपर्टी चिह्नित
अपर आयुक्त के मुताबिक अभी अधिकारियों द्वारा ऐसी संपत्ति को लेकर जानकारी इकट्‌ठा की जा रही है, जिसमें बड़ी राशि निगम की निकल रही है। वहीं, इसमें निगम ने किसी तरह की अनुमति नहीं ली है। इसके लिए नगर निगम के करीब 19 जोन में सभी जोनल अधिकारियों व ARO को इसके लिए आदेशित किया गया है।

इंदौर निगम ने बिना परमिशन बना निर्माण तोड़ा

खबरें और भी हैं...