पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • The Sound Of Machines Used To Come At Night, The Factory Closed On The Application Of The Couple

सिटीजन पॉवर:रात को आती थी मशीनों की आवाज, दंपती के आवेदन पर फैक्टरी बंद

इंदौर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रहवासी एरिया में चलाई जा रही गजक की फैक्टरी पर अशांति फैलाने की धारा में मामला दर्ज, घरों में होता था कंपन। - Dainik Bhaskar
रहवासी एरिया में चलाई जा रही गजक की फैक्टरी पर अशांति फैलाने की धारा में मामला दर्ज, घरों में होता था कंपन।

आवासीय क्षेत्र में अवैध तरीके से गजक की फैक्टरी चलने से छावनी क्षेत्र के बुजुर्ग दंपती ने परेशान होकर प्रशासन के पास शिकायत की। इस पर एसडीएम कोर्ट ने धारा 133 के तहत अशांति फैलाने के मामले में केस दर्ज कर पहले जांच की और फिर शिकायत सही पाए जाने पर फैक्टरी बंद करने के आदेश दे दिए। संभवत: जिले में पहली बार इस धारा में इस तरह से फैक्टरी बंद करने के आदेश हुए हैं।

इससे बुजुर्ग दंपती और क्षेत्र के रहवासियों को राहत मिली है। एसडीएम अंशुल खरे के पास इस तरह की शिकायत मोदी दंपती ने की थी कि यहां गजक की फैक्टरी है और इसमें रातभर मशीन चलती है। इससे घर में कंपन होता है। हम दोनों दिल के मरीज हैं और ब्लड प्रेशर की समस्या है।

इसके चलते स्वास्थ्य समस्याएं हैं और जान और माल की हानि हो सकती है। इसकी जांच करने के बाद कोर्ट में 133 के तहत केस दर्ज कर एसडीएम ने फैक्टरी संचालक को नोटिस जारी कर जवाब मांगा और बाद में भिंड, मुरैना क्षेत्र के फैक्टरी संचालकों ने फैक्टरी बंद कर दी।

एसडीएम कोर्ट को है इस धारा में आदेश के अधिकार

क्षेत्र में अशांति फैलाने के लिए धारा 133 के तहत एसडीएम कोर्ट को शांति बहाल करने के लिए आदेश जारी करने के अधिकार हैं। कलेक्टर मनीष सिंह ने सभी एसडीएम को प्रॉपर्टी पर कब्जा करने वालों के खिलाफ भी विविध प्रतिबंधात्मक धाराओं 107, 116 के तहत कार्रवाई के आदेश दिए हैं। सभी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वह भरण-पोषण मामले में भी संतानों को सीधे बुलाएं और कार्रवाई करें, कोर्ट से आदेश ऐसे हो कि आमजन को न्याय मिले।

खबरें और भी हैं...