• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • The Vehicle Was Stolen And Hid In The Parking Lot, The Customer Used To Search In Rural Areas

चुनावी सीजन में चोरी के वाहनों की डिमांड:वाहन चोरी कर पार्किंग में छुपा देता था, ग्रामीण इलाकों में तलाशता था ग्राहक

इंदौर4 महीने पहले

इंदौर शहर के वाहन चोर गिरोहों ने मॉल और अस्पतालों की पार्किंग को चोरी की गाड़ियां छिपाने का ठिकाना बना लिया है। पंचायत चुनावों के मद्देनजर चोरी की वारदातें भी बढ़ रही हैं। क्योंकि चुनाव के दौरान अवैध तरीके से शराब ले जाने के लिए चोरी के वाहनों की डिमांड काफी बढ़ गई है। ऐसे ही एक आरोपी को संयोगितागंज पुलिस ने मंगलवार सुबह चैकिंग के दौरान हिरासत में लिया है।

संयोगितागंज थाना प्रभारी तहजीब काजी ने बताया कि आरोपी का नाम अनवर निवासी मुंडला बताया जा रहा है। आरोपी लम्बे समय से शहर के कई इलाकों से गाड़ियों को चोरी कर पहले नजदीक की पार्किंग में उसे छिपा देता था। आरोपी गाड़ी चोरी करने के बाद गाड़ी में पेट्रोल चैक करता था। जिससे की उसे इलाके में बनी पार्किंग तक ले जाने में दिक्कत ना हो। आरोपी अनवर एक माह तक चोरी की गाड़ी को पार्किंग में ही रखता था। इस दौरान ग्राहक की तलाश करता और फिर गाड़ी वापस ले जाता था।

चुनाव की घोषणा होते ही बढ़ गई थी डिमांड
टीआई के अनुसार पूछताछ में आरोपी अनवर ने बताया कि गाड़ी छिपाने के बाद वह शहर के बाहर ग्राहकों की तलाश करता था। ग्राहक से सौदा होने के बाद पार्किंग में वापस लौट कर गाड़ी को ले जाता था। पार्किंग संचालकों ने बताया कि आरोपी के पहनावे और हावभाव को देखकर किसी भी व्यक्ति को उस पर कभी शक नहीं हुआ। इधर, अनवर ने बताया कि पंचायत चुनावों की घोषणा होते ही उसके पास चोरी के वाहनों की डिमांड बढ़ गई थी। बताया जा रहा है कि चुनावों के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में शराब बांटने और तस्करी के लिए चोरी के वाहनों का ही उपयोग किया जाता है।
अपनी पहचान भी छिपाता था
टीआई के अनुसार आरोपी पार्किंग में कभी अपना नाम सुरेश तो कभी रमेश बताता था। लेकिन पुलिस द्वारा थाने में जब सख्ती से पूछताछ की तो सामने आया कि आरोपी का नाम अनवर है। उस पर शहर के कई थानों में गाड़ी चोरी के मामले दर्ज हैं।