कोरोना के साइड इफेक्ट्स:इंदौर-दुबई फ्लाइट के इकॉनॉमी क्लास टिकट के दाम में 3 गुना कमी, पैसेंजर्स नहीं मिल रहे

इंदौर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल - Dainik Bhaskar
फाइल

बढ़ते कोरोना संक्रमण और ओमिक्रॉन के खतरे का प्रभाव डोमेस्टिक और इंटरनेशनल दोनों फ्लाइट्स पर पड़ा है। फ्लाइट में बुकिंग 50% तक घट गई है। सबसे ज्यादा असर इंदौर-दुबई फ्लाइट पर हुआ। दुबई फ्लाइट में फिलहाल बुकिंग 50% तक आ गई है। हर बुधवार इंदौर से दुबई जाने वाली फ्लाइट 182 सीटर है। 12 जनवरी को जाने वाले इस फ्लाइट में 95 यात्रियों ने ही टिकट बुक कराए। टिकट के दाम भी कम हुए हैं। इकॉनॉमी टिकट 18 हजार रुपए का है। सितंबर में यही 40 हजार रुपए में था।

2 साल पहले जब इंदौर से दुबई के लिए फ्लाइट शुरू हुई थी, तब एक तरफ का इकॉनॉमी किराया 9 से 10 हजार रुपए तक था। अंतरराष्ट्रीय उड़ान बंद होने के बाद दूसरी लहर में जब यह फ्लाइट शुरू हुई तो 12 से 13 हजार किराया था। सितंबर 2021 में बढ़कर यह 40 हजार तक पहुंच गया था।

एयरपोर्ट मैनेजर अनमोल ठाकुर के मुताबिक, इंदौर से जाने वाली अंतरराष्ट्रीय उड़ान में पैसेंजर्स की कमी दिखाई दे रही है। सोमवार को यात्रियों की कमी के चलते इंदौर से चलने वाली 6 उड़ानों को तो निरस्त करना पड़ा था। इनमें दिल्ली, मुंबई, लखनऊ और प्रयागराज की उड़ानें शामिल थी। इंडिगो एयरलाइंस ने अपनी 6 उड़ानों को निरस्त किया था। इंदौर से दिल्ली के लिए जाने वाली विस्तारा की फ्लाइट को 21 दिन के लिए कंपनी ने निरस्त कर दिया है।

टिकट के दाम एयर इंडिया की वेबसाइट से।
टिकट के दाम एयर इंडिया की वेबसाइट से।

दूसरे शहरों से दुबई का किराया

  • अहमदाबाद से दुबई: 16200 रु
  • दिल्ली से दुबई: 16500 रु.
  • मुंबई से दुबई: 19000 रु.
  • बेंगलुरु से दुबई: 21800 रु.
  • चेन्नई से दुबई: 54499 रु.

(आंकड़े बुकिंग वेबसाइट्स से बुधवार को जाने वाली उड़ान के।)

ओमिक्रॉन के साइड इफेक्ट्स:विस्तारा ने 11 से 31 जनवरी तक इंदौर-दिल्ली की उड़ानें निरस्त की, वजह- पैसेंजर्स नहीं मिल रहे

खबरें और भी हैं...