पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिलावट की दो साल में चुनाव की दो तस्वीरें:2018 के विस चुनाव में कांग्रेस से थे प्रत्याशी, ताई से कार रोककर मांगा था जीत का आशीर्वाद, इस बार घर जाकर पैर छुए, मुंह भी मीठा किया

इंदौर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुबह नामांकन दाखिल करने के पहले ताई से आशीर्वाद लेने उनके घर पहुंचे। - Dainik Bhaskar
सुबह नामांकन दाखिल करने के पहले ताई से आशीर्वाद लेने उनके घर पहुंचे।
  • सिलावट दूसरी बार साइकिल से एसडीएम कार्यालय पहुंचे और नामांकन दाख़िल किया
  • सुबह जिला अध्यक्ष सोनकर सहित तीन लोगों के साथ पहुंचे थे नामांकन दाखिल करने

सांवेर विधानसभा उपचुनाव के लिए भाजपा प्रत्याशी तुलसी सिलावट ने बुधवार को नामांकन भरा। सिलावट सुबह घर से निकले तो पत्नी सुनीता ने आरती कर तिलक लगाया। फिर वे उनके साथ ही माता- पिता की याद में बने गणेश मंदिर गए। दर्शन कर ज़ू के सामने स्थित हनुमान मन्दिर गए। इसके बाद लोस स्पीकर सुमित्रा महाजन से आशीर्वाद लेने उनके घर पहुंचे। यहां से फिर सांवेर पंहुचे। यहां सभा के बाद साइकिल से एसडीएम कार्यालय पहुंचे और नामांकन दाख़िल किया। हालांकि वे सुबह पहले एक बार आकर नामांकन दाख़िल कर चुके थे। रैली के साथ औपचारिकता के तहत दूसरी बार नामांकन भरा। रैली में चुनाव प्रभारी विधायक रमेश मेंदोला, मालिनी गौड़, मधु वर्मा, डॉ. राजेश सोनकर, गौरव रणदिवे, इकबाल सिंह गांधी सहित कई नेता और कार्यकर्ता मौजूद थे।

जिला अध्यक्ष राजेश सोनकर के साथ सिलावट ताई से आशीर्वाद लेने पहुंचे।
जिला अध्यक्ष राजेश सोनकर के साथ सिलावट ताई से आशीर्वाद लेने पहुंचे।

2018 में कांग्रेस में रहते हुए कार रोककर ताई से लिया था आशीर्वाद
बुधवार को सिलावट जब पूर्व सांसद सुमित्रा महाजन के घर पहुंचे। यहां पर ताई ने उन्हें विजयी होने का आशीर्वाद देकर उनका मुंह भी मीठा करवाया। यह तस्वीर देख सिलावट के 2018 में कांग्रेस की टिकट पर सांवेर विधानसभा से चुनाव लड़ने के दौरान नामांकन दाखिल करने वाला एक दृश्य याद आ गया। उस समय सिलावट अपने कार्यकर्ताओं से नामांकन दाखिल करने जैसे ही तहसील कार्यालय की ओर बढ़े, उन्हें ताई की आकर आते दिखाई दी थी। यह देख वे रुके और कार के पास जाकर हाथ जोड़कर ताई से आशीर्वाद मांगा। इस पर ताई ने भी उनके कंधे पर हाथ रखकर मुस्कुराते हुए उन्हें आशीर्वाद दिया था। उस समय ताई भाजपा के प्रत्याशी राजेश सोनकर के नामांकन में शामिल होने आई थीं।

2018 में इस प्रकार से कार रोककर मांगा था आशीर्वाद।
2018 में इस प्रकार से कार रोककर मांगा था आशीर्वाद।
ताई ने भी जीत का आशीर्वाद दिया।
ताई ने भी जीत का आशीर्वाद दिया।
पत्नी सुनीता सिलावट के साथ मंदिर पहुंच आशीर्वाद लिया।
पत्नी सुनीता सिलावट के साथ मंदिर पहुंच आशीर्वाद लिया।